Connect with us

खबरे छत्तीसगढ़

आरटीई के तहत निजी स्कूलों में प्रवेश के लिए 18 हजार 488 बच्चों का चयन ,14 जिलों के 2190 स्कूलों में दाखिले देने निकली पहली लॉटरी

Published

on

SHARE THIS

रायपुर, 15 जुलाई 2020/ शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीई) के तहत निजी स्कूलों में बीपीएल परिवार के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए आज पहली लॉटरी निकाली गई। इस लॉटरी के माध्यम से 18 हजार 488 बच्चे स्कूलों में दाखिले के लिए चयनित हुए। दाखिले के लिए पहली लॉटरी राज्य के 14 जिलों के 2190 स्कूलों में आरटीई के तहत बच्चों को प्रवेश देने के लिए सभी विकल्पों के आधार पर निकाली गई। संचालक लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा चयनित बच्चों को प्रवेश दिलाने हेतु उनके पालकों को एसएमएस के माध्यम से सूचना भेजी दी गई है।
लोक शिक्षण संचालनालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार पहली लॉटरी के लिए 14 जिलों के 2 हजार 190 स्कूलों के लिए आरटीई के तहत प्रवेश के लिए 26 हजार 468 सीटें थी। इन सीटों के लिए कुल 27 हजार 894 आवेदन प्राप्त हुए। प्राप्त आवेदनों में से 704 रद्द हुए और 7 हजार 115 का आबंटन नहीं हुआ। अपूर्ण स्थिति की 25 और 1562 मिलती-जुलती स्थिति के आवेदन थे।
पहली लॉटरी में जिलेवार स्कूलों में बच्चों के प्रवेश की स्थिति इस प्रकार है। प्रदेश के जिला दुर्ग में 552 स्कूलों के लिए 4 हजार 350 बच्चों का चयन प्रवेश के लिए किया गया है। इसी प्रकार कोरबा जिले के 288 स्कूलों के लिए 3 हजार 911 बच्चे, बस्तर जिले के 121 स्कूलों के लिए एक हजार 566 बच्चे, कोरिया जिले के 205 स्कूलों के लिए एक हजार 461 बच्चे, धमतरी जिले के 205 स्कूलों के लिए एक हजार 384 बच्चे, कवर्धा जिले के 177 स्कूलों के लिए एक हजार 305 बच्चे, बलरामपुर जिले के 150 स्कूलों के लिए एक हजार 247 बच्चे, बेमेतरा जिले के 161 स्कूलों के लिए एक हजार 99 बच्चे, बालोद जिले के 164 स्कूलों के लिए 994 बच्चे, कोण्डागांव जिले के 84 स्कूलों के लिए 647 बच्चे, बीजापुर जिले के 33 स्कूलों के लिए 192 बच्चे, दंतेवाड़ा जिले के 21 स्कूलों के लिए 129 बच्चे, सुकमा जिले के 15 स्कूलों के लिए 120 बच्चे और नारायणपुर जिले के 14 स्कूलों के लिए 83 बच्चे प्रवेश के लिए चयनित हुए हैं।

SHARE THIS

खबरे छत्तीसगढ़

भारतीय ज्ञान परंपरा से परिचित कराने वाली संस्कृति बोध माला पुस्तकों का विमोचन किया वित्त मंत्री ओ.पी. चौधरी ने

Published

on

SHARE THIS

रायपुर, 17 जुलाई 2024 : वित्त मंत्री  ओ. पी. चौधरी आज यहां  रोहिणीपुरम में विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान से सम्बद्ध सरस्वती शिक्षा संस्थान छत्तीसगढ़ रायपुर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए तथा संस्कृति बोध माला पुस्तकों का विमोचन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता विवेक शेन्डेय अध्यक्ष विद्या भारती मध्यक्षेत्र के द्वारा किया गया।

मंत्री चौधरी ने अपने उद्बोधन में भारतीय संस्कृति को विश्व की प्राचीन संस्कृतियों से एक बताते हुए यहां की विशिष्टता से अवगत कराया। उन्होंने समृद्धशाली भारतीय संस्कृति से जुड़े अनेक उदाहरण दिए। उन्होंने कहा कि हम सभी को भारतीय संस्कृति को जानने एवं समझने में संस्कृति बोध पुस्तकमाला बहुत ही उपयोगी साबित होगी। चौधरी ने शिक्षा को मूल्य परक बनाने में विद्या भारती के कार्यों की सराहना करते हुए हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया।बोधमाला में भारतीय संस्कृति की प्राचीन धरोहर के साथ-साथ राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय उपलब्धियों की जानकारी दी गई है। कार्यक्रम में श्री विवेक शेन्डेय ने संस्कृति ज्ञान परीक्षा के बारे में एवं संस्कृति बोधमाला के संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि पुस्तिका में हमारी भारत माता, हमारा भारत देश, हमारी ज्ञान परंपरा, हमारी वैज्ञानिक परंपरा, हमारे गौरवशाली अतीत के बारे में जानकारियां है। इसमें राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप भारतीय ज्ञान परंपरा एवं संस्कृति का समावेश करते हुए पुनर्लेखन किया गया है। कार्यक्रम को डॉ. देवनारायण साहू ने भी संबोधित किया।

कार्यक्रम का संचालन श्री निश्चय बाजपेयी ने किया। आभार प्रदर्शन श्री विवेक सक्सेना सचिव सरस्वती शिक्षा संस्थान छत्तीसगढ़ ने किया। कार्यक्रम में अटल बिहारी वाजपेयी विश्व विद्यालय बिलासपुर के कुलपति श्री ए.डी.एन. वाजपेयी, विद्याभारती उच्च शिक्षा संस्थान के अखिल भारतीय उपाध्यक्ष श्री शशिरंजन , विद्याभारती के क्षेत्रीय मंत्री श्री जितेन्द्र परिहार, क्षेत्रीय संगठन मंत्री श्री भालचंद्र रावले, क्षेत्रीय सह संगठन मंत्री डॉ आनंद राव तथा नगर के अनेक विद्यालयों के प्रबंधक, शिक्षक एवं शिक्षाविद् उपस्थित रहे।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

विधायक अग्रवाल ने किया सांस्कृतिक भवन का लोकार्पण पेड़ भी लगाये

Published

on

SHARE THIS

रिपोर्टर मुन्ना पांडेय,सरगुजा लखनपुर  : आज 17 जुलाई दिन बुधवार को नगर पंचायत के विभिन्न वार्डों में अम्बिकापुर विधायक राजेश अग्रवाल एवं नगर अध्यक्ष श्रीमती सावित्री दिनेश साहू ने सांस्कृतिक भवन का लोकार्पण एवं एक पेड़ मां के नाम अभियान के तहत पौध-रोपण किये। नपं के बाजार पारा स्थित भवानी मंदिर एवं शिव मंदिर प्रांगण में बनाये गये सांस्कृतिक भवन का लोकार्पण किये ।भवन लोकार्पण एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम के बतौर मुख्य अतिथि अंबिकापुर विधायक राजेश अग्रवाल रहे। कार्यक्रम के अनुसार वार्ड क्रमांक 03 भवानी मंदिर तथा वार्ड क्रमांक 06 स्थित शिव मंदिर प्रांगण के सांस्कृतिक भवन में विधिवत पंडित पुजारियों के मुखारविंद से उच्चरित वैदिक मंत्रोच्चार पूजा अर्चना कर विधायक अग्रवाल ने फीता काटकर भवन का लोकार्पण किया। साथ ही लखनपुर के सामुदायिक भवन , शिव मंदिर , देव तालाब, टटेंगा डबरी, ढांगा तालाब प्रांगण में वृक्षारोपण किया गया।

विधायक अग्रवाल नगर अध्यक्ष श्रीमती सावित्री दिनेश साहू उपाध्यक्ष रामनारायण दुबे ने नगर वासियों से एक पेड़ मां के नाम अभियान को साकार करते हुए वृक्षारोपण करने अपील किये । लोकार्पण एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम के दौरान भाजपा मंडल अध्यक्ष दिनेश साहू, कृपा शंकर गुप्ता, नगर पंचायत नेता प्रतिपक्ष रमेश जायसवाल, ओबीसी पिछड़ा वर्ग जिला अध्यक्ष राजेंद्र जायसवाल, पार्षद अमित बारी, विनेशराम खलखो, पवन भुइयां , मालती कश्यप,मुख्य नगर पालिका अधिकारी विद्यासागर चौधरी, सुरेंद्र साहू, सतनारायण तिवारी सहित वार्ड वासी बडी संख्या में मौजूद रहे।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

विष्णु सरकार में श्रमिकों का भरोसा फिर लौटा, हर श्रमिक तक पहुंच रही योजना: श्रम मंत्री लखन लाल देवांगन

Published

on

SHARE THIS
  • श्रमिकों के लिए शुरू हुई 05 रूपए में भरपेट भोजन की व्यवस्था
  • श्रम मंत्री देवांगन ने बुधवारी बाजार में किया शहीद वीर नारायण सिंह श्रम अन्न योजना का शुभारंभ

 श्रम, उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री श्री लखन लाल देवांगन श्रम, उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री श्री लखन लाल देवांगन

रायपुर, 17 जुलाई 2024  : श्रम, उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री श्री लखन लाल देवांगन ने आज कोरबा जिले के बुधवारी बजार में शहीद वीर नारायणसिंह श्रम अन्न योजना अंतर्गत निर्माण, संगठित एवं असंगठित वर्ग के श्रमिकों के लिए 05 रूपए में भरपेट भोजन की व्यवस्था हेतु दाल-भात केंद्र का शुभारंभ किया। यह जिले का दूसरा दाल भात केंद्र है। इस दौरान उन्होंने अतिथियों के साथ स्वयं भी श्रमिकों के बीच जाकर भोजन किया और श्रमिकों से अपील किया कि वे इस दाल-भात केंद्र में आकर भोजन अवश्य करें। श्रम मंत्री ने इस अवसर पर विभाग अंतर्गत संचालित योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि श्रम विभाग से जुड़े कुल तीन मंडल अंतर्गत 72 योजनाएं संचालित है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने सभी योजनाओं में हितग्राहियों को सामग्री प्रदान करने की बजाय सीधे उनके खाते में राशि देने की पहल किया है। इससे हितग्राही को सीधा लाभ पहुंचता है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय के द्वारा गरीबों के कल्याण के लिए कार्य किया जा रहा है। श्रम मंत्री श्री देवांगन ने आगे कहा कि श्रम विभाग की योजना श्रमिकों के लिए है। छत्तीसगढ़ का कोई भी श्रमिक योजनाओं से वंचित न रहे, उन्हें लाभ जरूर मिले। श्रम मंत्री होने के नाते उनकी भी कोशिश है कि कोरबा जिले के सभी श्रमिक योजनाओं का लाभ उठाएं।

 श्रम, उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री श्री लखन लाल देवांगन

बुधवारी में दाल-भात केंद्र का शुभारंभ करते हुए मंत्री श्री देवांगन ने कहा कि इस योजना को प्रारंभ करने के लिए मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने तत्काल सहमति दी और आज उनके प्रयास से गरीब मजदूरों को किफायती दर में प्रदेश के 10 जिलों के 22 स्थानों में दाल-भात केंद्र संचालित हो रहा है। कोरबा जिले में तीन स्थानों पर दाल-भात केंद्र का संचालन होगा। जिसमें से बालकों के बाद आज दूसरा केंद्र प्रारंभ हो गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में महतारी वंदन योजना के माध्यम से सभी महिलाओं को साल के 12 हजार रूपए का लाभ मिलने, किसानों को 3100 रूपए समर्थन मूल्य तथा तेंदूपत्ता संग्राहकों को 5500 रूपए मानक बोरा सहित अन्य योजनाओं से लाभान्वित करने का प्रयास किया जा रहा है। श्रमिकों के बच्चों के लिए आईएएस, आईपीएस सहित महत्वपूर्ण प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए कोचिंग की सुविधा ऑनलाइन और ऑफलाइन माध्यम से देने पहल की गई है। कोरबा जिले के श्रमिकों के बच्चों को भी इसका लाभ मिलेगा।

 श्रम, उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री श्री लखन लाल देवांगन
कार्यक्रम में आज जिले के 451 श्रमिक परिवारों को विभागीय योजनांतर्गत लगभग 01 करोड़ 17 लाख की राशि से लाभान्वित किया गया। मंत्री श्री देवांगन ने जिले के अन्य श्रमिकों को श्रम विभाग के अधिकारियों से योजनाओं के विषय में जानकारी प्राप्त कर योजनाओं का लाभ उठाने की अपील की। कार्यक्रम को श्री राजीव सिंह, श्री देवन्द्र पाण्डेय ने भी संबोधित किया। सहायक श्रम आयुक्त श्री राजेश आदिले ने विभाग अंतर्गत संचालित योजनाओं की जानकारी उपस्थित लोगों को दी। इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण तथा अधिकारी एवं श्रमिक और आम नागरिकगण उपस्थित थे।

श्रम मंत्री ने हितग्राहियों को सहायता राशि का चेक प्रदान किया
कार्यक्रम में मंत्री श्री देवांगन द्वारा श्रम विभाग की विभिन्न योजनाओं के तहत अनेक हितग्राहियों को सहायता राशि का चेक प्रदान किया। जिसके अंतर्गत  छत्तीसगढ़ असंगठित कर्मकार मृत्यु व दिव्यांग सहायता योजना के तहत कमला बाई दास एवं मनीराम यादव को 1-1 लाख का चेक प्रदान किया गया। इसी प्रकार मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक मृत्यु एवं दिव्यांग सहायता योजना के तहत सुनीता व बुधवार दास को 1-1 लाख का सहायता राशि का चेक प्रदान किया गया। असंगठित कर्मकार महतारी जतन योजना के तहत विनिता केंवट व शिव कुमार आरमो को 20-20 हजार, मिनीमाता महतारी जतन योजना के तहत राखी कंवर, पार्वती चौहान को 20-20 हजार, मुख्यमंत्री नोनी सशक्तिकरण सहायता योजना के तहत कुमारी मनीषा व भगवती को 20-20 हजार का सहायता राशि का चेक प्रदान किया गया।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

WEBSITE PROPRIETOR AND EDITOR DETAILS

Editor/ Director :- Rashid Jafri
Web News Portal: Amanpath News
Website : www.amanpath.in

Company : Amanpath News
Publication Place: Dainik amanpath m.g.k.k rod jaystbh chowk Raipur Chhattisgarh 492001
Email:- amanpathasar@gmail.com
Mob: +91 7587475741

Trending