Connect with us

देश-विदेश

मुकेश अंबानी दुनिया के टॉप 10 अरबपतियों की सूची में

Published

on

SHARE THIS

मुंबई। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी शनिवार को दुनिया के 10 सबसे अमीर लोगों की सूची में शामिल हो गए। मुकेश अंबानी की कुल संपत्ति अब बढ़ कर 64.5 अरब डॉलर हो गई।

फोबर्स की रियल टाइम अरबपतियों की सूची में अंबानी 9वें नंबर पर है। वह टॉप 10 में शामिल एकमात्र एशियाई व्यक्ति है। अंबानी ने यह स्थान ओरेकल कॉर्प. के लेरी एलिसन और फ्रांस के फ्रैंकोई बेटनकोर्ट मेयर्स को पीछे छोड़कर हासिल‍ किया है।

उल्लेखनीय है कि पिछले 58 दिनों में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने वैश्विक प्रौद्योगिकी निवेशकों से 1.15 लाख करोड़ रुपए जुटाए हैं। कंपनी ने यह राशि अपने जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड में हिस्सेदारी बेचकर जुटाई है। वहीं 53,124.20 करोड़ रुपए उसने राइट्स इश्यू जारी करके जुटाए हैं।

कंपनी ने एक बयान में कहा था कि पिछले साल ईंधन विपणन कारोबार में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी ब्रिटेन की बीपी को 7,000 करोड़ रुपए में बेचने और हाल में हासिल निवेश से कंपनी ने कुल 1.75 लाख करोड़ रुपए की राशि जुटाई है। रिलायंस पर 31 मार्च 2020 की समाप्ति पर 1,61,035 करोड़ रुपए का शुद्ध ऋण था। इस निवेश के साथ ही रिलांयस का शुद्ध ऋण शून्य हो गया है।

मुकेश अंबानी ने कहा था कि मैंने कंपनी के शेयरधारकों से किया वादा पूरा किया। रिलायंस का शुद्ध ऋण 31 मार्च 2021 की तय अवधि से बहुत पहले शून्य हो गया है।

SHARE THIS

देश-विदेश

मुंबई में गणेश उत्सव की धूम, करीब 250 KG कागज से बनाई गई गणपति की इको फ्रेंडली मूर्ति, नाम है- एलफिन्सटन के राजा

Published

on

SHARE THIS

मुंबई: महाराष्ट्र में गणेश उत्सव की धूम मची हुई है। इस बार उत्सव के दौरान गणपति की इको फ्रेंडली मूर्तियां देखने को मिल रही हैं। बड़ी संख्या में लोग अपने घरों पर बप्पा की ऐसी ही मूर्ति ला रहे हैं। इस तरीके की मूर्तियों का क्रेज इस बार बड़े गणपति मंडलों में भी देखने को मिल रहा है।

एलफिन्सटन के राजा आकर्षण का केंद्र

इस बार एलफिन्सटन के राजा की मूर्ति का काफी चर्चा हो रही है। इसे 200-250 किलो के कागज से बनाया गया है। 18 फीट ऊंची इस मूर्ति को बनाने में कुल 3 महीने का समय लगा है। बप्पा को कृष्ण अवतार में शेषनाग कालिया का मर्दन करते हुए दर्शाया गया है। नाग से बप्पा के मूर्ति की कुल ऊंचाई करीब 22 फीट है।

ये मूर्ति पूरी तरह से इको फ्रेंडली है और पूरे 11 दिनों तक मंडल में स्थापित रहेगी। इसका खास ख्याल रखने के लिए AC के जरिए सही तापमान भी यहां मेंटेन रखा जाता है। इस बड़ी मूर्ति के साथ गणपति की एक छोटी मूर्ति भी रखी गई है, जिसमें प्राण प्रतिष्ठा की गई है।

गिरगांव चौपाटी में विसर्जित की जाती है ये मूर्ति

इस मंडल से जुड़े सुधीर सोनावणे ने बताया कि यह इको फ्रेंडली मूर्ति हर साल गिरगांव चौपाटी में विसर्जित की जाती है और कागज से बने होने की वजह से यह आसानी से पानी मे घुल जाती है। सुधीर ने बताया कि यह पेपर के गणपति का तीसरा साल है। कोविड के बाद से ही वो बप्पा की मूर्ति पेपर से बनवा रहे हैं।

सुधीर ने बताया कि वो इको फ्रेंडली मूर्ति के ज़रिए लोगों को पर्यावरण में पॉलीथिन और प्लास्टिक के चलते हो रहे नुकसान के प्रति जागरूक करना चाहते हैं। इसलिए उन्होंने कई सोशल संदेश भी लिखे हैं। वहीं इस मंडल के अध्यक्ष संकेत धुरी ने बताया कि बप्पा की मूर्ति के आकार और कॉन्सेप्ट पर उत्सव के 6 महीने पहले तैयारी शुरू हो जाती है। पिछले साल बप्पा को कागज में ही राम अवतार में दिखाया गया था।

SHARE THIS
Continue Reading

देश-विदेश

देश को मिलीं 9 वंदे भारत एक्सप्रेस, PM मोदी ने दिखाई हरी झंडी, कहा- 2047 तक भारत बनेगा विकसित राष्ट्र

Published

on

SHARE THIS

नई दिल्ली: देश को आज फिर 9 वंदे भारत एक्सप्रेस की सौगात मिल गई है। पीएम मोदी ने इन्हें वर्चुअली हरी झंडी दिखाई है। ये 9 नई वंदे भारत ट्रेनें ग्यारह राज्यों में कनेक्टिविटी को बढ़ाएंगी और लोगों को यात्रा के लिए एक बेहतर माध्यम देंगी। इन ट्रेनों के संचालन से पुरी, मदुरै और तिरूपति जैसे महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों को नई कनेक्टिविटी मिलेगी। ये ट्रेनें काफी तेज होंगी, जिससे यात्रियों के समय की काफी बचत होगी। इन ट्रेनों में यात्रियों को वर्ल्ड क्लास सुविधाएं मिलेंगी, जिससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

पीएम मोदी ने क्या कहा?

इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि आज जिन ट्रेनों को शुरू किया गया है, वे पहले की तुलना में ज्यादा आधुनिक और आरामदायक हैं। ये वंदे भारत ट्रेनें नए भारत के नए जोश, नए उत्साह और नई उमंग का प्रतीक हैं। देश में आधुनिक कनेक्टिविटी विस्तार का यह अभूतपूर्व अवसर है। इंफ्रास्ट्रक्चर विकास की यह गति और स्केल 140 करोड़ भारतीयों की आकांक्षाओं से बिल्कुल मैच कर रही हैं और यही आज का भारत चाहता है।

पीएम ने कहा कि वंदे भारत ट्रेनों ने पर्यटन और आर्थिक गतिविधियों में भी तेजी ला दी है। जिन जगहों पर वंदे भारत ट्रेन पहुंच रही हैं, वहां पर्यटकों की संख्या बढ़ रही है। इससे वहां रोजगार के अवसर भी पैदा हो रहे हैं। पीएम ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि ऐसे कई रेलवे स्टेशन हैं जो पिछले कई सालों से विकसित नहीं हुए हैं। इन स्टेशनों को विकसित करने का काम चल रहा है। अमृत काल में बने नए स्टेशन ‘अमृत भारत स्टेशन’ कहलाए जाएंगे।रेल मंत्री ने क्या कहा?

केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि पिछले 9 वर्षों में रेलवे सिस्टम में अभूतपूर्व परिवर्तन किया है। आज स्टेशन साफ हैं। नई सुविधाएं दी जा रही हैं। देशभर में रेलवे स्टेशनों की पुरानी व्यवस्था को बदलकर आज की और भविष्य की जरूरतों के अनुसार नवनिर्माण किया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कुछ महीनों पहले अमृत भारत स्टेशन की 508 स्टेशन का भूमिपूजन किया था।

किन राज्यों के बीच बढ़ेगी कनेक्टिविटी?

ये 9 ट्रेनें 11 राज्यों राजस्थान, तेलंगाना, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, बिहार, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, केरल, झारखंड और गुजरात में कनेक्टिविटी को बढ़ावा देंगी। ये ट्रेनें अपने मार्गों पर सबसे तेज ट्रेन होंगी और यात्रियों का काफी समय बचाने में मदद करेंगी। इन वंदे भारत ट्रेनों की शुरुआत से देश में रेल सेवा के एक नए मानक की शुरुआत होगी।

नई ट्रेनों के नाम

उदयपुर-जयपुर वंदे भारत एक्सप्रेस

तिरुनेलवेली-मदुरै-चेन्नई वंदे भारत एक्सप्रेस

हैदराबाद-बेंगलुरु वंदे भारत एक्सप्रेस

विजयवाड़ा – चेन्नई (रेनिगुंटा के माध्यम से) वंदे भारत एक्सप्रेस

पटना-हावड़ा वंदे भारत एक्सप्रेस

कासरगोड-तिरुवनंतपुरम वंदे भारत एक्सप्रेस

राउरकेला-भुवनेश्वर-पुरी वंदे भारत एक्सप्रेस

रांची-हावड़ा वंदे भारत एक्सप्रेस

जामनगर-अहमदाबाद वंदे भारत एक्सप्रेस

SHARE THIS
Continue Reading

देश-विदेश

अब हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष उदय भान ने PM Modi के लिए कहे अपशब्द, BJP बोली-यही है मुहब्बत की दुकान?

Published

on

SHARE THIS

लोकसभा में बीएसपी सांसद कुंवर दानिश अली पर बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी ने काफी अपमानजनक शब्दों का प्रयोग किया था जिसके बाद राजनीतिक विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच, हरियाणा कांग्रेस प्रमुख उदय भान ने तो पीएम मोदी और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया है, जिसका एक वीडियो शनिवार को सामने आया है। यह पूछते हुए कि क्या यह ‘मुहब्बत की दुकान’ है, भाजपा नेताओं ने कांग्रेस को घेर लिया और उदय भान को पार्टी से बर्खास्त करने की मांग की, ठीक उसी तरह जैसे कांग्रेस शुक्रवार को बिधूड़ी के खिलाफ कार्रवाई चाहती थी।

उदय भान ने कहा-मैंने किसी का नाम नहीं लिया

हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष ।उदय भान ने एएनआई से अपने बयान का बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने नाम तक नहीं लिया. “मैंने जो कहा वह ग़लत था? क्या मैंने अपशब्दों का प्रयोग किया? भान ने कहा कि मैंने केवल सच कहा है। अगर कुछ भी गलत कहा होता तो माफी मांगता….बीजेपी को अपने सांसदों और नेताओं को नियंत्रण में रखना चाहिए। मैं पहले भी 20-30 रैलियों में ऐसी ही बातें कह चुका हूं।’ अगर मैंने कुछ भी गलत कहा है तो वे अदालत जा सकते हैं। ”

राहुल गांधी ने शुक्रवार को दानिश अली से मुलाकात की थी, जब बसपा सांसद ने कहा कि अगर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मुस्लिम सांसद के साथ दुर्व्यवहार करने वाले भाजपा के रमेश बिधूड़ी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की तो वह संसद छोड़ने पर विचार कर सकते हैं। दानिश से मुलाकात के बाद राहुल गांधी ने कहा, ‘नफरत के बाजार में मुहब्बत की दुकान।’

भाजपा ने राहुल गांधी से पूछा-यही है मुहब्बत की दुकान

अब इसके एक दिन बाद, भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने पूछा कि क्या हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष उदय भान की भाषा ‘मुहब्बत की दुकान’ दिखाती है। भाजपा प्रवक्ता ने लिखा, “यहां हरियाणा में कांग्रेस अध्यक्ष हैं – उन्होंने पीएम और सीएम के लिए सबसे अक्षम्य, भयानक भाषा का इस्तेमाल किया है। क्या कांग्रेस उन्हें बर्खास्त करेगी? क्या यह मुहब्बत की दुकान है? नहीं, यह कांग्रेस की गाली-गलौच का सामान है।” .

पूनावाला ने लिखा, “मोदी समाज को गाली देने से लेकर इस तक – राहुल गांधी ने केवल इस भाषा और व्यवहार को प्रोत्साहित किया है! राहुल गांधी, खड़गे जी और सोनिया जी ने खुद भी सबसे खराब गालियों का इस्तेमाल किया है। यहां तक ​​कि जनता को भी कांग्रेस ने राक्षस कहा है, इसलिए कि यही उनका सच्चा चरित्र है। “

दानिश अली ने भी लोकसभा में की थी अभद्र टिप्पणी

दानिश अली के खिलाफ बिधूड़ी के शब्दों का चयन एक बड़ा राजनीतिक विवाद बन गया क्योंकि कई सांसदों ने लोकसभा अध्यक्ष को पत्र लिखकर अध्यक्ष की उपस्थिति में सदन के अंदर जो कुछ हुआ उसकी निंदा की। जहां ओम बिड़ला ने बिधूड़ी को चेतावनी जारी की और उन शब्दों को हटा दिया, वहीं कांग्रेस के लोकसभा नेता अधीर चौधरी ने कहा कि शब्दों को हटाना पर्याप्त नहीं है क्योंकि वीडियो पहले ही प्रसारित हो चुका है।

हालांकि, बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने पूरी घटना को नया मोड़ देते हुए कहा कि लोकसभा अध्यक्ष को दानिश अली की अभद्र टिप्पणी और आचरण की भी जांच करनी चाहिए। दुबे ने ट्विटर पर लिखा, “लोकसभा के नियमों के तहत, किसी अन्य सांसद को आवंटित समय के दौरान बाधा डालना, बैठकर बोलना और रनिंग कमेंटरी देना भी सजा का प्रावधान है।”

 

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

Trending