Connect with us

खबरे छत्तीसगढ़

*मुख्यमंत्री भूपेश बघेेल ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, सी.ए.ए. में लाए गए संशोधन को वापस लेने का किया अनुरोध*

Published

on

SHARE THIS

रायपुर । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर नागरिकता संशोधान अधिनियम 2019 (सीएए) को वापस लेने का अनुरोध किया है।

मुख्यमंत्री ने पत्र में लिखा है कि जहां एक ओर इस अधिनियम का वर्तमान संशोधन धर्म के आधार पर अवैध प्रवासियों का विभेद करता प्रतीत होता है एवं भारतीय संविधान के अनुच्छेद-14 के विपरीत होने का संकेत दे रहा है, वहीं दूसरी ओर भारत के पड़ोसी देशों, जैसे- श्रीलंका, म्यांमार, नेपाल और भूटान इत्यादि देशों से आने वाले प्रवासियों के संबंध में इस अधिनियम में कोई भी प्रावधान नहीं किया गया है ।
मुख्यमंत्री ने पत्र में कहा है कि छत्तीसगढ़ राज्य में इस अधिनियम के विरूद्ध काफी विरोध प्रदर्शन देखे गये, जो कि शांतिपूर्ण रहे, अपितु इसमें इस प्रदेश के विभिन्न वर्गाें के लोग शामिल हुए। छत्तीसगढ़ में मूलतः अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़े वर्ग के निवासी हैं, जिनमें से बड़ी संख्या में गरीब, अशिक्षित एवं साधनविहीन हैं, जिसे इस अधिनियम की औपचारिकता को पूर्ण करने में कठिनाइयों का निश्चित रूप से सामना करना पड़ सकता है। संविधान के समक्ष सभी सम्प्रदाय समान होते हैं, संसद के द्वारा अधिनियमित नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, 2019 (सी.ए.ए.) धर्म निरपेक्षता के इस संवैधानिक आधारभूत भावना को खंडित करता दृष्टिगत हो रहा है ।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने पत्र में देश के संविधान के अनुच्छेद-14 को देश के सभी वर्गाें के व्यक्तियों के समानता के अधिकार और कानून के अंतर्गत समानता की गारंटी को सुरक्षित रखने के लिये आवश्यक है कि संविधान की इस मूल भावना के विपरीत कोई भी कानून नहीं बनाया जाये। जनमानस में विरोध प्रदर्शन को देखते हुए, गरीब तबके एवं असाक्षर लोगों को असुविधा न हो, देश में शांति बनी रहे, एवं संविधान की मूल अवधारणा सुरक्षित रहे, इन सबके दृष्टिगत, नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, 2019 (सी.ए.ए.) में लाये गये संशोधन को वापस लि ये जाने का प्रदेशवासियों की ओर से अनुरोध किया है।

SHARE THIS

खबरे छत्तीसगढ़

मोबाइल टॉवर में आगजनी की घटना से छात्र-छात्राओं की पढ़ाई प्रभावित,विनाशकारी गतिविधियों का किया खण्डन

Published

on

SHARE THIS

कांकेर  : विगत दिनों में प्रतिबंधात्मक एवं गैर कानूनी सीपीआई माओवादी संगठन द्वारा जिले के ग्राम छोटेबेठिया एवं कोयालीबेड़ा क्षेत्र में जनसुविधा के लिए लगाये गये मोबाईल टॉवर को क्षति पहुंचाया गया था। उपरोक्त घटना से आह्त हुये अंदरूनी क्षेत्रों के छात्र-छात्राओं द्वारा शुक्रवार को जिला मुख्यालय कांकेर में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर माओवादियों द्वारा किये गये इस प्रकार के कायरना हरकत का खण्डन करते हुये मोबाईल सेवा को पुनः प्रारंभ करने हेतु अनुरोध किया गया है।

छात्र-छात्राओं द्वारा अपने ज्ञापन में उल्लेख किया गया कि मोबाईल टॉवर लगने के कारण से अंदरूनी क्षेत्र के छात्र-छात्राओं को ऑनलाईन कोचिंग क्लॉस, इंटरनेट की सुविधा मिलने के साथ-साथ विषय वस्तु के जानकार व्यक्तियों से संपर्क स्थापित करने में भी सुविधा प्राप्त हो रही थी लेकिन माओवादियों द्वारा मोबाईल टॉवर को नुकसान पहुंचाने से इन सभी सुविधाओं से इन्हें वंचित होना पड़ रहा है। नक्सल प्रभावित क्षेत्र के इन छात्र-छात्राओं द्वारा यह भी बताया गया कि मोबाईल टॉवर लगने के कारण एम्बुलेंस सुविधा जैसे अन्य आपातकालीन सेवा हेतु जिला मुख्यालय एवं ब्लॉक मुख्यालय में संपर्क करने हेतु ग्रामीणों को सुविधा प्राप्त हो रही थी। माओवादियों के इस कायराना हरकत से क्षेत्र के ग्रामीणों को तमाम सुविधाओं से वंचित रहना पड़ रहा है। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा उपरोक्त संबंध में आवश्यक कार्यवाही शीघ्र करने हेतु छात्र-छात्राओं को आश्वस्त किया गया है।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

इलाके में दहशत का माहौल: नक्सलियों का तांडव, जनअदाल में मुखबीर के आरोप में उपसरपंच की पीटपीट कर हत्या

Published

on

SHARE THIS

कांकेर :  पीएलजीए सप्ताह के एक दिन पहले छोटेबेठिया थाना क्षेत्र के गांवों में बिती रात नक्सलियों का तांडव देखने को मिला। पुलिस मुखबीर के आरोप में ग्राम कंदाड़ी के उपसरपंच की पीट पीट कर बेरहमी से हत्या कर दिया। ग्राम बुरका में लगे मोबाईल टॉवर को आग लगा दिया। ग्राम स्वरूपनगर की ओर जाने वाली मुख्य मार्ग को जगह जगह से खोद दिया जिससे आवाजाही पुरी तरह से बंद हो गई। नक्सली घटना के बाद से क्षेत्र में दहशत का माहौल बना हुआ है।

मिली जानकारी के अनुसार परतापुर एरिया कमेटी भाकपा माओवादी द्वारा बिती रात क्षेत्र में भारी मात्रा में बैनर पोस्टर व पर्चा फेंका गया है। पर्चा में उन्होने ग्राम कंदाडी के उपसरपंच रामसु राम कतलामी उम्र 35 वर्ष निवासी खैरीपदर की हत्या करने की बात कही है। पर्चा में उन्होने लिखा है कि वह पुलिस के लिए मुखबिरी का काम करता था, उस पर आरोप था कि उसने एक नक्सली को आत्मसमर्पण कराने में मदद किया है। रामसु कतलामी ने जो गलती किया है उसके लिए उसे मौत की सजा दिया गया है। ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार की रात नक्सलियों ने ग्राम कंदाड़ी से तीन किलीमीटर अंदर ग्राम खैरीपदर में जनअदालत लगाकर ग्रामीणों के सामने ही लात घुंसोें व डंडों से पीट पीट कर बेरहमी से हत्या कर दिया। हत्या के बाद ग्रामीण पर परिजनों ने गुरूवार को उसका शव गांव में दफना दिया और इस घटना की सूचना या जानकारी पुलिस प्रशासन को भी नहीं दिया। नक्सलियों ने गुरूवार की रात जब घटना के संबध में बैनर व पर्चा फेंका तब हत्या का यह मामला सामने आया। बताया जा रहा है कि कंदाड़ी अतिसंवेदनशील ग्राम पंचायत है, नदी के उस पार गांव होने के कारण लोगों का उतना संपर्क नहीं है जिसके कारण यह जानकारी बाहर नहीं आई। पखांजूर एसडीओपी ने रवि कुजूर ने बताया कि ग्राम बुरका में मोबाईल टॉवर में आग लगाने की सूचना मिली है इसके आलावा उन्हे किसी हत्या की जानकारी नहीं है।

टॉवर में आगजनी से मोबाईल सेवा ठप  : गुरूवार की रात बड़ी संख्या में नक्सली ग्राम पीवी 62 स्वरूप् नगर पहुंचे और यहां पर जमकर उत्पाद मचाते हुए ग्राम बुरका में लगे टॉवर को आग लगा दिया। आगजनी की घटना से टॉवर में लगा हुआ जनरेटर पुरी तरह से जलकर राख हो गया। कुछ दिन पहले ही नक्सलियों ने ग्राम पीवी 94 में लगे मोबाईल टॉवर में भी आग लगा दिया था, जिसके बाद इसी गांव के टॉवर से काम चल रहा था अब नक्सलियों ने यहां पर आग लगा दिया जिसके बाद से इलाके के आठ गांवों में मोबाईल सेवा ठप हो गई है।

मार्ग अवरूद्ध करने जगह जगह से खोदा सड़क :  नक्सलियों का उत्पात आगजनी की घटना के बाद भी नहीं रूका उन लोगों ने आवागमन को बाधित करने के लिए माझपल्ली से स्वरूपनगर जाने वाली मुख्य सड़क को जगह जगह से खोद दिया जिससे कि आवागमन पुरी तरह से बाधित हो गया है। बताया जा रहा है कि नक्सलियों ने ट्रैक्टर की मदद से तीन जगह पर करीब तीन फीट लंबा चौड़ा गढ्ढा खोद दिया जिससे ग्रामीणों को आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। नक्सली 2 से 8 दिसम्बर तक पीएलजीए सप्ताह का मनाने का ऐलान किया है इससे उन लोगों ने जमकर तांडव मचाया है जिससे क्षेत्र में दहशत का माहौल बना हुआ है।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

सड़क हादसे में एक युवक की मौत

Published

on

SHARE THIS

कोंडागांव :  सड़क हादसे में एक युवक की मौत हो गई। हादसा इतना भयंकर था कि हादसे के बाद सड़क पर जाम लग गया। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची और यातायात को सुगम करने में जुटी हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार, कोंडागांव जिले के कलेक्टर कार्यालय चौक में ट्रक और बाइक के बीच जोरदार भिड़ंत हो गई। इस हादसे में बाइक सवार युवक की मौके पर ही मौत हो गई। इस हादसे की जानकारी मिलते ही ट्रैफिक पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। यह पूरी घटना कोतवाली थाना क्षेत्र की है।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

Trending