Connect with us

क्राइम

*राजधानी में पिछले वर्ष की तुलना में बढ़ा अपराध ,पुलिस कुछ गंभीर मामलों को सुलझाने में रही सफल ,लेकिन नहीं लगा पाया अपराध पर अंकुश*

Published

on

SHARE THIS

रायपुर ।रायपुर जिले में वर्ष 2019 में पुलिस ने गंभीर मामलों में 22 प्रकरणों में आजीवन कारावास की सजा आरोपियों को दिलाने में पुलिस सफल रही वही तेलीबांधा थाना के पाक्सो एक्ट में 20 दिन में आरोपी को दिलवाई आजीवन कारावास की सजा दिलवाई ।राजधानी में कम्युनिटी पुलिसिंग शुरू की जिसमें कई अच्छे फीडबैक मिले है इसी के साथ वर्ष 2019 में हर हेड हेलमेट अभियान में 16 हजार हेलमेट जनता में वितरित किये गये।आगामी दिनों में अभियान को हर हेड हेलमेट 2.0 शुरू करने जा रहे है जिसमें राज्य सरकार भी शामिल होगी ।

उक्त जानकारी आज रायपुर एसएसपी आरिफ शेख ने वार्षिक रिपोर्ट पेश करते हुए पत्रकारवार्ता में कहा ।उन्होंने बताया कि 2018 और 2019 के बीच एक साल में हत्या – 2018 में  59 मामले दर्ज हुए थे, लेकिन 2019 में यह आंकड़ा बढ़कर 73 तक पहुँच गया.बलात्कार- 2018 में 222 घटनाएं हुई थी, लेकिन 2019 में यह आंकड़ा बढ़कर  254 तक पहुँच गया।
लूट- 2018 में 79 घटना हुई थी, लेकिन 2019 में यह आंकड़ा बढ़कर 86 तक पहुँच गया।
छेड़खानी- 2018 में 189 अपराध दर्ज हुए थे, लेकिन 2019 में यह आंकड़ा बढ़कर 221 तक पहुँच गया।
अपहरण- 2018 में 402 मामले दर्ज हुए थे, लेकिन 2019 में यह आंकड़ा बढ़कर 445 तक पहुँच गया।नकबजनी- 2018 में 521 घटनाएं हुई, लेकिन 2019 यह आंकड़ा बढ़कर 583 पहुँच गया.
आर्म्स एक्ट- 2018 378 मामले सामने आएं थे, लेकिन 2019 में यह आंकड़ा बढ़कर 524 पहुँच गया.
इसी तरह चाकूबाजी की घटना बीते वर्ष की तुलना में कुछ कम रही है. 2018 में चाकूबाजी की 141 घटनाएं हुई थी, लेकिन 2019 में 139 घंटनाएं हुई. वहीं 2019 में डकैती की एक भी घटना राजधानी में नहीं हुई.
वहीं इन आंकड़ों के बीच वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ़ शेख़ ने कहा कि हमारी पुलिस ने कई बड़े मामलों को सुलझाने का काम किया है. कई घटनाओं में तत्काल सफलता मिली है. हमने 10 से अधिक नवाचार के काम किए हैं. विशेषकर हेलमेट को लेकर जो जागरूरता अभियान चलाया उसका व्यापक असर राजधानी में दिखा है.
उन्होंने कहा कि रायपुर जिले में 700 पुलिस बल की कमी है. इसे पूरा करने विभाग को प्रस्ताव दिया गया है. वहीं 2019 में 647 पुलिस के अधिकारी और कर्मचारियों को सम्मानित किया गया. 120 की निंदा हुई, 14 की वेतन वृद्धि रोकी गई है, जबकि 4 एसआई और एएसआई को अर्थदंड दिया गया है, वहीं तीन आरक्षकों को किया बर्खास्त किया गया है.
वहीं उन्होंने कहा कि पुराने प्रकरणों को डिटेक्ट करने की कोशिश की जा रही है. पंकज बोथरा हत्याकांड की फाइल फिर से खोली गई है. इस मामले में कई कड़ियाँ जुड़ना बाकी है जिसे जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है. इसके साथ इस वर्ष महिला कमांडो गठित करने का निर्णय लिया गया है.
हमने सोशल मीडिया के माध्यम से भी जनता से संवाद स्थापित करने का काम किया है. सामुदायिक पुलिसिंग के जरिए भी लोगों की समस्याओं को निवाहरण करने का प्रयास किया है. फेसबुक लाइव के जरिए भी हम फीड हमें मिलते रहा है. हम जनता की सेवा, सुरक्षा के लिए हर क्षण तत्पर है. बढ़ती घटनाओं को रोकना हमारी जिम्मेदारी है. हम अपराधों पर नियंत्रण करने के अभियान सतत् जुटे हुए हैं. हम उम्मीद करते हैं कि समाज की ओर से भी हमे पूरा सहयोग मिलते रहेगा.  समाज के साथ पुसिसिंग को बेहतर किया जा सकता है. जहाँ अपराधों को बढ़ने को लेकर सवाल उठ रहे हैं, तो इसका मतलब ये नहीं कि राजधानी की पुलिसिंग फेल रही है, हमने पूरी चुनौती और मजबूती के साथ काम किया है. पुलिस हमेशा बेहतर काम करने में लगी रहती है. आगे भी अच्छा करेंगे. हर हेड हेलमेट अभियान को जारी रखेंगे. हम चाहेंगे कि जनता की ओर से सुझाव मिलते रहे. जनता की शिकायतों को दूर करने में पुलिस हमेशा प्रयासरत रहेगा।

SHARE THIS

क्राइम

एकतरफा प्यार में युवक ने 5 लोगों की ली जान, 3 साल के मासूम को भी नहीं छोड़ा

Published

on

SHARE THIS

सारंगढ़-बिलाईगढ़ :  जिले के सलिहा थाना अंतर्गत ग्राम थरगांव में बीती रात दिल दहला देने वाली घटना हुई. यहां के निवासी हेमलाल साहू सहित उनके परिवार के 5 सदस्यों की पड़ोस के ही एक युवक ने टंगिया से वार कर बेरहमी से हत्या कर दी. घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी ने घटनास्थल पर ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इस हत्याकांड से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है. घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस मर्ग कायम कर जांच में जुट गई है. इस पूरी घटना में एकतरफा प्यार की बात सामने आ रही है. जिसको लेकर आरोपी ने इस खौफनाक वारदात को अंजाम दिया.

मिली जानकारी के अनुसार, आज से ठीक 5 साल पहले पड़ोसी मनोज साहू युवती मीरा से एकतरफा प्यार करता था. इस वजह से दोनों ही परिवार के बीच झगड़ा भी हुआ और मीरा के पिता हेमलाल के शिकायत के आधार पर मनोज को जेल भेज दिया गया. इस बीच मीरा की शादी सरसीवा के पास रायकोना गांव में हो गई. वहीं अब अपने भाई मदन साहू के शादी में शामिल होने मीरा अपने 3 साल के बेटे दत्युष के साथ गांव पहुंची थी. लेकिन फिर से मीरा को देख मनोज पागल हो गया और बीती रात उनके घर में घुसा.

घर में घुसते ही पहले उसने हेमलाल साहू 55 फिर जगमोती 52 और ममता 27 वर्ष की टंगिया से वार कर हत्या कर दी. इसके बाद एक अलग कमरे में सो रही मीरा 25 वर्ष और 3 साल के दत्यूष को मौत के घाट उतार दिया. इस वारदात के बाद पकड़े जाने के डर से मनोज साहू ने भी उसी घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

इस हत्याकांड के बाद अब इस पूरे परिवार में एक ही सदस्य बचा है वो है मदन साहू जो कि पिथौरा बिजली विभाग में ऑपरेटर है. फिलहाल मौके पर फोरेंसिक की टीम सहित पुलिस के आलाधिकारी भी पहुंच चुके हैं. इस हत्याकांड से पूरा गांव सदमे में है.

 

SHARE THIS
Continue Reading

क्राइम

जमीन विवाद में सब्बल से मारकर व्यापारी की हत्या,दंपत्ति को आजीवन कारावास की सजा

Published

on

SHARE THIS

धमतरी :  जिले के ग्राम अमेठी में दो साल पहले सब्बल मारकर व्यापारी की हत्या करने वाले पति-पत्नी को अपर सत्र न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. साथ ही एक-एक हजार रुपये अर्थदंड से भी दंडित किया है.

जानकारी के मुताबिक यह हत्याकांड दो साल पहले 16 मई 2022 को हुआ था. बताया गया कि अर्जुनी थाना के ग्राम अमेठी में धमतरी शहर के व्यापारी राजेन्द्र पारख का गांव के बुजुर्ग फिरंगी निर्मलकर से जमीन संबंधी विवाद चल रहा था. घटना दिनांक को सुबह 8.30 बजे दोनों के बीच विवाद हो गया, जिसके बाद फिरंगी निर्मलकर (59) ने अपनी पत्नी फुलेश्वर बाई (55) के साथ लोहे की रॉड से व्यापारी राजेन्द्र पारख के सिर पर जोरदार वार कर दिया. गंभीर रूप से घायल राजेन्द्र को मसीही अस्पताल लाया गया. जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने इस मामले में दोनों आरोपियों के खिलाफ धारा 302/34 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर गिरफ्तार किया गया. मामले की विवेचना के बाद पुलिस ने केस डायरी न्यायालय में पेश किया, जहां इसकी अंतिम सुनवाई अपर सत्र न्यायालय में हुई.

न्यायाधीश उषा गेंदले ने मामले में सारे सबूतों को देखने और गवाहों को सुनने के बाद अभियुक्त फिरंगी निर्मलकर और उसकी पत्नी फुलेशर बाई निर्मलकर को दोषसिद्ध करार दिया. इसके बाद न्यायालय ने दोनों को धारा 302/34 के तहत आजीवन कारावास की सजा सुनाई. साथ ही एक-एक हजार रुपये अर्थदंड से दंडित किया. अर्थदंड की राशि अदा नहीं करने पर 6-6 माह का अतिरिक्त सश्रम कारावास भुगतना होगा.

 

 

SHARE THIS
Continue Reading

क्राइम

चोरी के विरुद्ध कोरिया पुलिस की एक और बड़ी सफलता

Published

on

SHARE THIS

पंडोपारा में लगातार चोरी एवं वाहन चोरी करने वालो के विरूद्ध कोरिया पुलिस की बड़ी कार्यवाही

 

कोरिया  : दिनांक 13 मई 2024 को प्रार्थी हरिराम पिता बुढन साय, श्रीमती कविता मिंज पति मोहर साय मिंज एवं श्रीमती विश्वासी पति धरमसाय टोप्पो सभी निवासी विराट नगर पण्डोपारा के द्वारा पृथक-पृथक रिपोर्ट दर्ज कराया गया कि दिनांक 12 एवं 13 मई 2024 के मध्यरात्रि अज्ञात चोरों के द्वारा प्रार्थिया श्रीमती कविता मिंज के यहा सेंधमारी कर घर के अंदर घुसकर बेडरूम में लेडिज बैग में रखे 500 रूपये नगद, पैन कार्ड, आधार कार्ड, अन्य दस्तावेज तथा टिफिन, प्रार्थी हरिराम के यहां से सेंधमारी कर घर के अंदर घुसकर 3000 रूपये नगद चोरी कर एवं घर में रखे बक्शा एवं दस्तावेजों को बाहर निकालकर फेंक दिये है।

इसी तरह प्रार्थिया विश्वासी के यहां सेंधमारी कर घर के अंदर घुसकर 03 नग साड़ी चोरी कर लिये है तथा प्रार्थी कृपाशंकर तिवारी पिता शेषमणी तिवारी निवासी ग्राम खैरी थाना पटना के यहां से दिनांक 16 मई 2024 के मध्य रात्रि मोटर सायकल चोरी कर लिए है।

उपरोक्त चोरियों के प्रकरण से तत्काल पुलिस अधीक्षक कोरिया को अगवत कराया गया जिस पर पुलिस अधीक्षक कोरिया श्री सूरज सिंह परिहार के द्वारा चोरी के मशरुका बहुत छोटे होने के बावजूद फ्री एंड फेयर रजिस्ट्रेशन ऑफ़ क्राइम के तहत मामला पंजीबद्ध करने का निर्देश दिया जाकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कोरिया, SDOP बैकुण्ठपुर, सायबर सेल प्रभारी की एक विशेष टीम का गठन किया गया।

जिस पर थाना पटना में अपराध क्रमांक 128/24, 129/24, 130/24 एवं 132/24 धारा 457, 380 भादवि० का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया, विवेचना के दौरान घटना स्थल के सी.सी.टी.व्ही. फुटेज, अन्य तकनीकी जानकारी एवं मुखबिर सूचना के आधार पर आरोपियों की लगातार पतासाजी की जा रही थी।

दिनांक 17 मई 2024 को मुखबिर सूचना के आधार पर आरोपी राकेश भारती उर्फ संजू पिता स्व० बैजनाथ भारती उम्र 42 वर्ष निवासी कोचिला थाना पटना को घेराबंदी कर हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया। पूछताछ पर आरोपी द्वारा बताया गया कि दिनांक 12 एवं 13 मई 2024 की रात मैं अपने 02 अन्य साथियो के साथ मिलकर (नाम बताया है किन्तु यहाँ खुलासा नहीं किया जा रहा है) पण्डोपारा में जाकर विराट नगर कालोनी में सेंधमारी कर चोरी किये है, चोरी के सामान को आपस में बांट लिये है तथा दिनांक 16.05.2024 को ग्राम खैरी से एक मोटर सायकल भी चोरी किया हूँ, जो अपने घर में छुपाकर रखा हूँ। आरोपी राकेश भारती के निशानदेही पर चोरी की गई मोटर सायकल को बरामद किया गया है एवं पण्डोपारा कालोनी से चोरी किया गया मशरूका 1500 रू. नगद, 01 नग साड़ी, 01 पेचकस एवं सब्बल बरामद किया गया है। प्रकरण में अन्य 02 आरोपी फरार है जिनकी निरंतर पतासाजी की जा रही है। गिरफ्तार आरोपी राकेश भारती का थाना बैकुण्ठपुर में भी पूर्व में चोरी का आपराधिक रिकार्ड रहा है।

आरोपीगण का नाम :-
1. राकेश भारती उर्फ़ संजू
निवासी छिंदिया थाना पटना
2. ऋषि रौतिया
निवासी कटकोना थाना पटना

पूर्व से चोरी में फरार चल रहा आरोपी भी कोरिया पुलिस की गिरफ्त में
मामले में थाना के एक अन्य अपराध क्रमांक 160/23 धारा 457, 380, 411, 34 भादवि० में कटकोना थाना पटना के प्रार्थियां पार्वती पति स्व० जदुनाथ निवासी कटकोना के यहां से सोने व चांदी की ज्वेलरी एवं पैसों की चोरी के प्रकरण में पूर्व में 03 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया था तथा एक अन्य फरार आरोपी ऋषि रौतिया जिसको पकड़ने में कोरिया पुलिस को सफलता मिली है। फरार आरोपी को आज दिनांक 18.05.2024 को गिरफ्तार किया गया है। इस प्रकार इस पुराने प्रकरण में भी निकाल सम्भव हो पाया।

गिरफ्तार आरोपियों के विरुद्ध थाना पटना में धारा 457, 380 भा द. वि. का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। प्रकरण में फरार आरोपियों की निरंतर पतासाजी जारी है।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

WEBSITE PROPRIETOR AND EDITOR DETAILS

Editor/ Director :- Rashid Jafri
Web News Portal: Amanpath News
Website : www.amanpath.in

Company : Amanpath News
Publication Place: Dainik amanpath m.g.k.k rod jaystbh chowk Raipur Chhattisgarh 492001
Email:- amanpathasar@gmail.com
Mob: +91 7587475741

Trending