Connect with us

देश-विदेश

*20 साल से गालियां सुन रहा हूं अपमान झेलने की आदत हो गई है – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी*

Published

on

SHARE THIS

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब दिया। पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति का अभिभाषण दिशा देने वाला है। पेश हैं भाषण के ताजा बिंदु-

– कांग्रेस और उसके जैसे दलों ने जिस दिन भारत को भारत की नजर से देखना शुरू किया, उस दिन उन्हें अपनी गलती का अहसास होगा।

– सबने देखा दल के लिए कौन है और देश के लिए कौन हैं।

– सीसीए विरोध में असली चेहरा दिखा।

– अल्पसंख्यकों पर पाकिस्तान में जुल्म हुआ।

– कुछ लोगों ने कहा सीएए लाने की इतनी जल्दी क्यों की

– पाकिस्तान भी भारतीय मुसलमानों को गुमराह कर रहा है।

– कैबिनेट प्रस्ताव पढ़ने वाले संविधान को समझें।

– दशकों बाद भी पाकिस्तान का चरित्र नहीं बदला।

– कांग्रेस पाकिस्तान की भाषा बोल रही है। हम पर हिन्दू-मुस्लिम करने का आरोप लगाया जा रहा है।

– कांग्रेस के लिए वो मुसलमान, मेरे लिए भारतीय हैं। खान अब्दुल गफ्फार खां के पैर छुए।

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शाहीन बाग का अप्रत्यक्ष जिक्र करते हुए कहा कि इस प्रदर्शन को किसका समर्थन हासिल है। ये उन्हें पता है। पीएम मोदी ने एक शायर का जिक्र करते हुए कहा कि

ख़ूब पर्दा है, कि चिलमन से लगे बैठे हैं।

साफ़ छुपते भी नहीं, सामने आते भी नहीं!!

ये पब्लिक सब जानती है। समझती है।

– पीएम ने कहा कि एनएसी के जरिए रिमोट कंट्रोल सरकार कौन लेकर आया, जिसका सरकार चलाने में पीएम और पीएमओ से बड़ा रोल था। भारत के लोग देख रहे हैं कि देश में संविधान के नाम पर क्या हो रहा है।

– प्रधानमंत्री ने कहा कि वे संविधान बचाओ का जिक्र करने वाले लोगों से पूछना चाहते हैं कि देश में आपातकाल किसने लागू किया। न्यायपालिका की गरिमा पर आघात किसने पहुंचाया। संविधान में सबसे ज्यादा संशोधन किसने किया। जिन लोगों ने ये सब किया है उन्हें संविधान को याद रखने की जरूरत है।

– पुराने तरीके पर चलते तो 70 साल बाद भी अनुच्छेद 370 नहीं हटता, राम जन्मभूमि आज भी विवादों में रहती

– ‘सरकार बदली है, सरोकार भी बदलने की जरूरत है, एक नई सोच की जरूरत है, हमने पुराने तरीके पर चलने की आदत बदली’ पुरानी लीक पर चलते तो मुस्लिम बहनों को तीन तलाक की तलवार डराती रहती, राम जन्मभूमि आज भी विवादों में रहती।

– कांग्रेस के लोग रोज संविधान बचाने की बात कहते हैं। कांग्रेस को दिन में 100 बार संविधान बचाओ, संविधान बचाओ जपना चाहिए। संविधान के नाम पर देश में बहुत कुछ हो रहा है। जिन्होंने दर्जनों बार चुनी हुई सरकार बर्खास्त की वे संविधान बचाने की बात करते हैं। इमरजेंसी को याद करें।

– 20 साल से गालियां सुन रहा हूं अपमान झेलने की आदत हो गई है। इतना अपमान झेला है कि अब आदत हो गई है।

– उल्लेखनीय है कि कल राहुल गांधी ने कहा था कि पीएम मोदी 6 माह बाद घर से निकल नहीं पाएंगे, युवाओं के डंडे पड़ेंगे।

– अब मैं सूर्य नमस्कार की संख्या बढ़ा दूंगा, सूर्य नमस्कार करके पीठ मजबूत करूंगा।

– राहुल गांधी के ‘डंडे खाने’ वाले बयान पर कहा- 6 महीने में डंडे मारने की बात सुनी, डंडे खाने के लिए पीठ मजबूत करूंगा।

– एफडीआई 26 बिलियन डॉलर को पार कर गया।

– मैं विपक्ष को बेरोजगार नहीं होने दूंगा। विपक्ष को पता है मैं ही काम करूंगा।

– हमने महंगाई को काबू में रखा। वित्तीय घाटे को बढ़ने नहीं दिया।

– कांग्रेस की सोच से चलते तो शत्रु संपत्ति का भी इंतजार रहता है।

– यहां स्वामी विवेकानंद के कंधे से बंदूकें चलाई गईं।

– जो उन्हें जैसा समझ पाता है वैसा ही बयान देता है।

– इस बार के बोडो समझौते में सभी हथियार बंद ग्रुप साथ आए हैं।

– समझौते में लिखा है कि बोडो की कोई मांग बाकी नहीं रही है।

– आज नई सुबह भी आई है, नया सवेरा भी आया है, नया उजाला भी आया है।

– नॉर्थ ईस्ट अब दरवाजे पर आकर खड़ी हो गई है।

– चाहे बिजली की बात हो, रेल की बात हो, हवाई अड्डे की बात हो, मोबाइल कनेक्टिविटी की बात हो, ये सब करने का हमने प्रयास किया है।

– अगर हम कांग्रेस की राह चलते तो शत्रु संपत्ति कानून नहीं बनते। चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ की नियुक्ति नहीं होती। हम अपने लिए नई लीक बनाकर चलते हैं और वह सोच लीक से हटकर होती है।

– हम कांग्रेस के रास्ते चलते तो आज 50 साल के बाद भी शत्रु संपत्ति का इंतजार देश को करते रहना पड़ता। 28 साल के बाद बेनामी संपत्ति कानून लागू नहीं होता।

– पुरानी सोच होती तो तीन तलाक से मुक्ति नहीं मिलती।

– पुरानी सोच होती तो अयोध्या केस नहीं सुलझता।

– हम पुराने तरीके से चलते तो बदलाव नहीं आता।

– हमने सरकार ही नहीं बदली, सरोकार बदला।

– गांधीजी हमारे लिए जिंदगी हैं। गांधीजी आपके लिए ट्रेलर हो सकते हैं।

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में कवि सर्वेश्वर दयाल सक्सेना की कुछ पंक्तियां पढ़ीं।

– कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि ये तो ट्रेलर है। इस पर पीएम ने कहा कि गांधी आपके लिए ट्रेलर हो सकते हैं, हमारे लिए तो जिंदगी हैं।

– पीएम जब लोकसभा में आए तो सत्ता पक्ष के सांसदों ने जय श्रीराम के नारे लगाए। इसके जवाब में विपक्ष के सांसदों ने महात्मा गांधी की जय के नारे लगाए।

SHARE THIS

देश-विदेश

इस्तीफे की खबर पर सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू का आया पहला रिएक्शन

Published

on

SHARE THIS

शिमला :  हिमाचल में सियासी हलचल के बीच मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू का पहला रिएक्शन सामने आया है। उन्होंने कहा कि मेरे इस्तीफे को लेकर प्रोपेगेंडा फैलाया जा रहा है। मैंने कोई इस्तीफा नहीं दिया है। मैं योद्धा हूं और संघर्ष करना जानता हूं। दरअसल, ऐसी खबरें आ रही हैं मुख्यमंत्री से कांग्रेस हाईकमान ने इस्तीफा मांगा है। आज शाम कांग्रेस पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में कांग्रेस विधायक दल की बैठक में नए नेता का चुनाव होगा और सुक्खू अपना इस्तीफा दे देंगे। इस खबर पर सुक्खू का रिएक्शन आया है।

हमारी सरकार पूरे 5 साल चलेगी-सुक्खू

उन्होंने कहा कि हम बजट में अपना बहुमत साबित करेंगे। बीजेपी जो कह रही है कि हमारे विधायक उनके संपर्क में हैं,तो हम उन्हें गलत साबित करेंगे। हमारी सरकार पूरे 5 साल चलेगी। सुक्खू ने आगे कहा कि बीजेपी सदन में गलत कर रही है। बीजेपी के कुछ विधायक हमारे भी संपर्क में हैं। मेरे इस्तीफे की खबर गलत है। हम योद्धा हैं योद्धा की तरह लड़ेंगे। कांग्रेस की सरकार 5 साल चलेगी। वहीं पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के बेटे और कैबिनेट मंत्री विक्रमादित्य सिंह के इस्तीफे पर सीएम सुक्खू ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

कांग्रेस के अंदर का असंतोष खुलकर सामने आया

दरअसल, सुक्खू कैबिनेट में मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में विधायकों की अनदेखी का आरोप लगाया और मंत्री पद से इस्तीफा देने का ऐलान कर दिया। विक्रमादित्य के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के अंदर का असंतोष खुलकर सामने आ गया है। कांग्रेस मंगलवार को राज्य की एकमात्र राज्यसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी से चुनाव हार गई थी। कांग्रेस के विधायकों ने क्रॉस वोटिंग कर बीजेपी उम्मीदवार को जिता दिया। ऐसे में अपनी सरकार को गिरने से बचाने की खातिर कांग्रेस को अपने विधायकों को एकजुट रखने के लिए  काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।

हम कठोर निर्णय से पीछे नहीं हटेंगे : कांग्रेस 

कांग्रेस ने हिमाचल प्रदेश में राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर कहा कि पार्टी सर्वोपरि है और वह जनादेश बरकरार रखने के लिए कठोर निर्णय लेने से पीछे नहीं हटेगी।  पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने यह भी कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने पर्यवेक्षकों से बात की है और उनसे कहा है कि वे विधायकों से बात करके जल्द रिपोर्ट सौंपें। उनका कहना है कि पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट के बाद ही कोई कदम उठाया जाएगा । रमेश के अनुसार,‘‘छतीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा और कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री डीके शिवकुमार बतौर पर्यवेक्षक शिमला में में मौजूद हैं। कांग्रेस के हिमाचल प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला भी हिमाचल प्रदेश में मौजूद हैं।’’ उन्होंने कहा, “हम सरकार अस्थिर नहीं होने देंगे। जरूरत पड़ी तो कठोर निर्णय लेने से पीछे नहीं हटेंगे।

SHARE THIS
Continue Reading

देश-विदेश

अखिलेश यादव को सीबीआई ने भेजा समन, अवैध माइनिंग केस में पूछताछ के लिए बुलाया

Published

on

SHARE THIS

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर अब सीबीआई का शिकंजा कसने जा रहा है। सीबीआई ने अखिलेश यादव को भेजा समन भेजकर अवैध माइनिंग केस में पूछताछ के लिए बुलाया है। अखिलेश यादव को 160 CRPC के तहत समन भेजा गया है।

29 फरवरी को पूछताछ के लिए बुलाया

जानकारी के मुताबिक अखिलेश यादव को 29 फरवरी को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। उन्हें इस मामले में बतौर गवाह के तौर पर पूछताछ में शामिल होने के लिए सीबीआई ने समन भेजा है। दरअसल, 2016 में इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई थी जिसमें हमीरपुर के तत्कालीन जिलाधिकारी समेत अन्य लोकसेवकों के खिलाफ अवैध खनन का आरोप लगाया गया था। इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर सीबीआई ने इस मामले की जांच अपने हाथ में ली थी।

आरोप यह था कि 2012-2016 की अवधि के दौरान जिला हमीरपुर (यूपी) में लघु खनिजों के अवैध खनन की अनुमति दी गई। अवैध रूप से रेत के खनन के लिए नए पट्टे दिए, मौजूदा पट्टों का नवीनीकरण किया और मौजूदा पट्टा धारकों को बाधित अवधि की अनुमति दी और इस तरह सरकारी खजाने को गलत नुकसान पहुंचाया गया और आरोपियों ने अनुचित लाभ अर्जित किया। सीबीआई ने इस मामले में 15 जनवरी 2019 को उत्तर प्रदेश के हमीरपुर, जालौन, नोएडा, कानपुर और लखनऊ जिलों और दिल्ली में 12 स्थानों पर तलाशी ली थी। तलाशी के दौरान अवैध रेत खनन से संबंधित आपत्तिजनक सामग्री; भारी नकदी और सोना बरामद किया था।

SHARE THIS
Continue Reading

देश-विदेश

विधायकों की नाराजगी के बीच कांग्रेस हाईकमान ने सीएम सुक्खू से मांगा इस्तीफा

Published

on

SHARE THIS

शिमला: हिमाचल में मुख्यमंत्री सुक्खू को अब इस्तीफा देना पड़ सकता है। खबर ये है कि विधायकों की नाराजगी के बीच कांग्रेस हाईकमान ने सीएम सुक्खू से इस्तीफा मांग लिया है। हिमाचल प्रदेश में मुख्यमंत्री के लिए अब नए नेता का चुनाव होगा। पार्टी की ओर से डीके शिवकुमार और भूपेंद्र सिंह हुड्डा बतौर पर्यवेक्षक शिमला में मौजूद हैं। जानकारी के मुताबिक शाम पांच बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक में नए नेता का चुनाव होगा।

सीएम की रेस में प्रतिभा सिंह और मुकेश अग्निहोत्री 

वहीं मुख्यमंत्री पद की रेस में प्रतिभा सिंह और मुकेश अग्निहोत्री का नाम सबसे आगे है। प्रतिभा सिंह गुड ने 20 विधायकों के समर्थन का दावा किया है। अब शाम पांच बजे विधायक दल की बैठक में नए नेता का चयन होगा।

विक्रमादित्य सिंह ने दिया इस्तीफा

इससे पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बेटे और सुक्खू कैबिनेट में मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने मंत्रीपद से इस्तीफे का ऐलान कर दिया। वे शिमला (ग्रामीण) से विधायक हैं। विक्रमादित्य सिंह ने सुक्खू पर विधायकों की अनदेखी के आरोप लगाए।  विक्रमादित्य सिंह के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के अदर का असंतोष खुलकर सामने आ गया है। कांग्रेस मंगलवार को राज्य की एकमात्र राज्यसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी से चुनाव हार गई थी। कांग्रेस के विधायकों ने क्रॉस वोटिंग कर बीजेपी उम्मीदवार को जिता दिया। ऐसे में अपनी सरकार को गिरने से बचाने की खातिर कांग्रेस को अपने विधायकों को एकजुट रखने के लिए  काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।

भाजपा के 15 विधायक निलंबित, सदन की कार्यवाही स्थगित 

हिमाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया ने नेता प्रतिपक्ष जय राम ठाकुर सहित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 15 विधायकों को बुधवार को निलंबित कर दिया और फिर सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी। भाजपा विधायकों को सदन में दुर्व्यवहार और नारेबाजी के आरोप में निलंबित किया गया। ठाकुर ने सुबह संवाददाताओं से कहा, ”हमें आशंका है कि विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया भाजपा विधायकों को निलंबित कर सकते हैं ताकि बजट विधानसभा में पारित किया जा सके।” उन्होंने कहा कि राज्यसभा चुनाव से यह स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस सरकार अल्पमत में है। ठाकुर ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के इस्तीफे की मांग की। मंगलवार को हिमाचल प्रदेश की एकमात्र राज्यसभा सीट पर भाजपा के जीत हासिल करने के एक दिन बाद विधायकों को निलंबित करने का ये फैसला आया है।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

WEBSITE PROPRIETOR AND EDITOR DETAILS

Editor/ Director :- Rashid Jafri
Web News Portal: Amanpath News
Website : www.amanpath.in

Company : Amanpath News
Publication Place: Dainik amanpath m.g.k.k rod jaystbh chowk Raipur Chhattisgarh 492001
Email:- amanpathasar@gmail.com
Mob: +91 7587475741

Trending