Connect with us

देश-विदेश

पहले मस्जिद में पढ़ी नमाज फिर हुई सुसाइड की घटना सीसीटीवी में कैद ….

Published

on

SHARE THIS

20 नवंबर 2023:- उत्तर प्रदेश के सहारनपुर की एक मस्जिद में फंदे पर झूलते युवक के शव से सनसनी फैल गई. युवक ने मस्जिद में फांसी लगाकर सुसाइड की है. सुसाइड करने से पहले उसने नमाज पढ़ी थी. मृतक युवक कौन है इसकी अभी पहचान नहीं हो पाई है. सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा है. युवक द्वारा फांसी लगाने की पूरी घटना मस्जिद में लगे सीसीटीवी में कैद हुई है.घटना सहारनपुर के थाना गंगोह के मोहल्ला कुरैशियान स्थित शाह विलायत मस्जिद की है. सोमवार की सुबह करीब 7 बजे एक युवक मस्जिद में दाखिल होता है. सीसीटीवी फुटेज में दिखता है कि मस्जिद में आने के बाद युवक पहले नमाज अदा करता है. नमाज पढ़ने के बाद युवक मस्जिद में रखी लकड़ी की सीढ़ी के जरिए रस्सी खोलकर फांसी का फंदा तैयार करता है. वह स्टूल पर चढ़कर फांसी के फंदे से लटककर सुसाइड कर लेता है.

पुलिस कर रही मृतक युवक की पहचान

मस्जिद में जब कुछ और लोग अंदर पहुंचते हैं तो वह वहां युवक का शव लटका देख चौंक जाते हैं. लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा है. गंगोह थाना इंस्पेक्टर अविनाश गौतम ने बताया कि अभी तक सुसाइड करने वाले युवक की पहचान नहीं हो पाई है. युवक की पहचान कराई जा रही है. शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया है.

मस्जिद में युवक का लटका शव देख मचा हड़कंप

घटना के बाद इलाके में हडकंप मंच गया. घटना के बाद मस्जिद पर लोगों की भीड़ जुट गई. हर कोई मस्जिद के अंदर हुई इस घटना को लेकर हैरान था. लोग मृतक युवक की पहचान के लिए प्रयास करते नजर आए. पुलिस मृतक युवक की शिनाख्त कर रही है, साथ ही सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की जा रही है.

SHARE THIS

क्राइम

ये हैं वे दोनों शूटर्स जिन्होंने करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को गोलियों से किया था छलनी

Published

on

SHARE THIS

जयपुर: करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के आरोपी दोनों शूटर्स की पहचान कर ली गई है। पुलिस इन दोनों शूटर्स की तलाश में जुटी हुई है। दोनों शूटर्स में से एक का नाम रोहित राठौड़ और दूसरे का नाम नितिन फौजी है। वहीं पुलिस ने उस स्कूटी को भी बरामद कर लिया है जिस पर सवार होकर आरोपी गोगामेड़ी की हत्या के लिए आए थे।  मंगलवार को दो हमलावरों ने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के घर में घुसकर उनकी गोली मारकर हत्या कर दी थी। हमलावरों ने अपने साथ एक व्यक्ति को भी गोली मार दी तथा घर में मौजूद एक अन्य व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस के मुताबिक आरोपियों को पकड़ने के लिए कड़ी नाकेबंदी की गई है। गोगामेड़ी की हत्या की जिम्मेदारी रोहित गोदारा गैंग ने ली है।

आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास तेज

पुलिस के मुताबिक हमलावर बातचीत करने के बहाने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के घर में दाखिल हुए और कुछ देर बातचीत करने के बाद उन्होंने गोलियां चलाना शुरु कर दिया। उनके अनुसार गोगामेड़ी के गार्ड ने भी जवाबी गोली चलाई।बाद में दोनों हमलावरों ने उनके साथ आये नवीन शेखावत को भी गोली मार दी। इस वारदात में गोगामेड़ी और नवीन की मौत हो गई जबकि परिचित अजीत गंभीर रूप से घायल हो गया। आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस द्वारा सख्त नाकेबंदी कर संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है।

लोगों से शांति और संयम बरतने की अपील

राजस्थान के डीजीपी ने बताया कि  लोगों से धैर्य और शांति बनाए रखने की अपील करते हुए पुलिस को विशेष सतर्कता बरतने और सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। इस घटना की रोहित गोदारा गैंग ने जिम्मेदारी ली है। इसे ध्यान में रखते हुए पड़ोसी जिलों और बीकानेर संभाग में भी बदमाशों के संपर्क वाले लोगों को चिन्हित कर पुलिस द्वारा लगातार दबिश दी जा रही है।

हरियाणा पुलिस से भी मांगा सहयोग

राजस्थान की पुलिस ने हरियाणा के पुलिस महानिदेशक से बात कर उनसे सहयोग मांगा मांगा है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि शीघ्र ही अपराधियों को गिरफ्तार करने में पुलिस टीम को सफलता मिलेगी। गोगामेड़ी पर हमले की पूरी घटना घर पर लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकार्ड हो गया। पुलिस के अनुसार बुरी तरह घायल गोगामेड़ी को मानसरोवर के एक अस्पताल में ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई। उधर, गोगामोड़ी की हत्या के विरोध में आज राजस्थान बंद का आह्वान किया गया है। इस दौरान हत्या के विरोध में जगह-जगह प्रदर्शन किए जा रहे हैं।

SHARE THIS
Continue Reading

देश-विदेश

भिखारी के पास थे एक लाख से ज्यादा रुपए फिर भी भूख से हो गई मौत, 2 दिन से नहीं खाया था खाना, डॉक्टर भी हैरान

Published

on

SHARE THIS

वलसाड: इंसान को जीने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी खाने के लिए खाना और पीने के लिए पानी होता है। लेकिन क्या आप सोच सकते हैं कि कोई शख्स पैसे होते हुए भी भूख की वजह से मर जाए? गुजरात के वलसाड से एक ऐसा ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक भिखारी की भूख की वजह से मौत हो गई, जबकि उसके पास एक लाख से ज्यादा रुपए थे।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल वलसाड की गांधी लाइब्रेरी के पास एक भिखारी बेहोशी की हालत में पड़ा मिला था। स्थानीय लोगों ने ये सूचना 108 नंबर पर फोन करके दी। इसके बाद भिखारी को वलसाड के सरकारी हॉस्पिटल में ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बाद में पता चला कि भिखारी ने 2 दिन के करीब से खाना नहीं खाया था।

हैरानी की बात तो ये है कि भिखारी के पास 1 लाख 14 हजार 480 रुपए मिले। ऐसे में सभी लोग इस बात से हैरान हैं कि इतना पैसा पास में होने के बावजूद भिखारी भूखा क्यों रहा? क्यों उसने खाना नहीं खाया? पूरे इलाके में भिखारी की मौत की चर्चा जोरों पर है।

पुलिस ने जांच शुरू की

इस भिखारी की उम्र 70 से 77 साल के बीच बताई जा रही है। उसके पास से जो रुपए बरामद हुए हैं, उनमें 100, 200 और 500 रुपए के नोट हैं। वलसाड सिटी पुलिस ने मृत भिखारी के शव को कब्जे में ले लिया है और इस बात की जांच शुरू कर दी है कि क्या भिखारी का कोई भी रिश्तेदार है या नहीं।

SHARE THIS
Continue Reading

देश-विदेश

योगी की तर्ज पर हो एक्शन, एनकाउंटर तक कोई शपथ ग्रहण नहीं- करणी सेना का बड़ा बयान

Published

on

SHARE THIS

मंगलवार को जयपुर में राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या से पूरे राजस्थान में बवाल मचा हुआ है। पुलिस ने मामले पर सख्त कार्रवाई की बात कही है लेकिन करणी सेना लगातार गुस्सा जाहिर कर रही है। अब करणी सेना की ओर से गोगामेड़ी के हत्यारों पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के तर्ज पर एक्शन लेने की मांग की जा रही है। करणी सेना का कहना है कि अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी बीते दो सालों से सुरक्षा मांग रहे थे लेकिन कांग्रेस सरकार की ओर से उन्हें कोई भी मदद नहीं दी गई।

जब तक एनकाउंटर नहीं तब शपथ ग्रहण नहीं

करणी सेना के नेता महिपाल सिंह ने कहा है कि जब तक सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के हत्यारों का एनकाउंटर नहीं हो जाता तब तक राज्य में कोई भी शपथ ग्रहण नहीं होगा। बता दें कि करणी सेना ने अने अध्यक्ष की हत्या के विरोध में कल राजस्थान बंद का ऐलान किया है। महिपाल सिंह ने आरोप लगाया है कि गोगामेड़ी को गहलोत सरकार ने सुरक्षा नहीं दी इसी कारण आज ये घटना हुई है।

लॉरेंस बिश्नोई का नाम चर्चा में

हत्या में एक बार फिर से कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के ग्रुप का नाम सामने आया है। गोगामेड़ी की हत्या के ठीक बाद सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक पर रोहित गोदारा कपूरीसर नाम की प्रोफाइल से एक पोस्ट वायरल हो रही है जिसमें करणी सेना के अध्यक्ष की हत्या की जिम्मेदारी ली गई है। पोस्ट में लिखी बातों से लग रहा है कि आरोपी बिश्नोई गैंग का सदस्य है।

राजस्थान के डीजीपी का बयान

राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या पर राजस्थान के डीजीपी उमेश मिश्रा ने कहा कि आज जयपुर में करणी सेना प्रमुख सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या कर दी गई। हत्यारे उनके घर पर किसी बात पर चर्चा करने के बहाने आए थे। इस घटना में सुखदेव सिंह गोगामेड़ी और उनके एक अंगरक्षक को गोली लगी। हत्यारों के साथ आए एक आरोपी को भी गोली लगी, जिसकी मौत हो गई है। बदमाशों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। हमने हरियाणा डीजी से बात की और सहायता मांगी है। हत्या की जिम्मेदारी रोहित गोदारा गैंग ने ली है, उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

Trending