Connect with us

खबरे छत्तीसगढ़

कोरिया वन मंडल : अतिक्रमण पनप रहा साहब उसी रास्ते से गुजर कर रहे नजरंदाज, कैसे होगा जल जंगल जमीन सुरक्षित..

Published

on

SHARE THIS

कोरिया  : वन भूमि में अतिक्रमण को लेकर वन विभाग की लगातार किरकिरी होती रही है। कार्यवाही के नाम पर गांव के किनारे छोर से अतिक्रमण हटा कर वन विभाग वाह वाही भी लूट अपने उच्य अधिकारियो से पीठ भी थप थाप्वा लेता है। पर क्या सही मायनों में वन भूमि से अतिक्रमण हटाने में विभाग खरा उतरा है इस खबर को पढ़ समझ कर आप खुद जवाब तलास लेंगे।

कोरिया वन मंड़ल के बैकुंठपुर वन परिक्षेत्र अंतर्गत बैकुंठपुर से सोनहत पहुच मार्ग घाट समाप्ति या यूं कहें पहाड़पारा के पास वन भूमि में सालों पूर्व एक कच्चे का केवल घर था आज देखिए कई झोपड़ी यहाँ तक कि लगभग वीराने में झोपड़ी में गुटका,सिगरेट,चिप्स की दुकान लेकर अतिक्रमणकारी बैठ गए है। इतना ही नही झोपड़ी बनाने में मोटी मोटी बल्लियों का उपयोग किया गया है। फिर वन विभाग के आला अधिकारी इस सड़क मार्ग से आंनदपुर नर्सरी,सोनहत, देवगढ़ वन परिक्षेत्र का निरीक्षण करने भी जाते है पर लगता है साहब की नजर निर्माण कार्यो से हटती नही तभी तो सड़क किनारे हो रहे अतिक्रमण दिखाई नही दे रहा है और वन भूमि का सत्यानास कर मानव जंगल की ओर जंगल की जमीन में बसता जा रहा है।

जमीन की लालसा

आज मुख्य मार्गो से लेकर साइड तक कि जमीनो की कीमत आसमान में है । किसी भी आम आदमी के लिए खरीदने और बसने में आधी उम्र खट जा रही है। ऐसे में जमीन की लालसा में लोग जंगल को रहवासी इलाको में तब्दील करते जा रहे वही जल जमीन जंगल की रक्षा में संबंधित तैनात विभाग को लोग अपने कर्तव्यों से भटकते जा रहे है। जंगल की जमीन बड़े से क्षेत्र को अतिक्रमण किया जा रहा पर विभाग मौन है। जो समझ से परे है।

खाना पूर्ति कार्यवाही

मिडिया में खबर आती है तो सायद अपनी छवि को साफ सुथरा दिखाने की चाह में विभाग के जिम्मेदार अतिक्रमण के खिलाफ ऐसे खड़े हो कर दल बल के साँथ अतिक्रमण हटवाते है जैसे मानो विभाग अब वन भूमि को बचाने सवगन्ध खा कर निकला है और ऐसे कमजोर वर्ग को टारगेट करता है जिसकी कही पहुच न हो समझ नही आता की विभाग मुह देखी काम क्यो करता है दबंग जम कर अवैध वृक्षो की कटाई,वन भूमि को कृषि योग्य भूमि बना कर कई वर्षों से टिक जा रहे है लेकिन विभाग उसके सामने नदमस्तक है।

देखता है विभाग फिर भी चुप

मुख्य सड़क और अन्यत्र विभाग के जिम्मेदार कर्मचारी अधिकारी वन भूमि में अवैध अतिक्रमण देखते है मीडिया या गांव के लोग शिकायत भी करते है पर जिम्मेदार की जिम्मेदारी तो देखिए कान में एक जु तक नही रेंगती मीडिया का काम है लिखना ग्रामीणों का काम है चिल्लाना थोड़ा दिन लिखेंगे चिल्लायेंगे चुप हो जाएंगे ऐसी अकड़ का मानो विभाग रवैया अपना लिया हो । तभी तो अतिक्रमण पनप रहा है।

बरहाल हमारी खबर कितना असर सुस्त रवैया अपनाए हुए विभाग के कर्मचारी अधिकारी पर डाल पायेगा अगली खबर जल्द..

SHARE THIS

खबरे छत्तीसगढ़

विजय बघेल ने पूर्व सीएम के खिलाफ की शिकायत, लगाया ये गंभीर आरोप

Published

on

SHARE THIS

रायपुर :  छत्तीसगढ़ में पाटन विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार विजय बघेल ने आचार संहिता उल्लंघन के मामले में पूर्व सीएम भूपेश बघेल के खिलाफ दोबारा शिकायत की है. उन्होंने चुनाव आयोग मांग की है कि आचार संहिता उल्लंघन के मामले में दुबारा जांच की जाए और दोषी पाए जानें पर पूर्व सीएम भूपेश बघेल के खिलाफ तत्काल कार्रवाई कर उनकी उम्मीदवारी को रद्द कर दिया जाए।

बता दें कि विजय बघेल ने निर्वाचन आयोग को पत्र लिखकर पूर्व में सीएम भूपेश बघेल के खिलाफ पाटन विधासभा में आचार संहिता के उल्लंघन करने का आरोप लगाया था. जिसके बाद निर्वाचन आयोग ने मामले की जांच के बाद कहा था कि भूपेश बघेल द्वारा किसी भी तरह से आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है. जांच से संतुष्ट नहीं होने पर विजय बघेल दिल्ली हाईकोर्ट में इसकी शिकायत की, जिसके बाद दिल्ली हाईकोर्ट ने उन्हें सबूत के साथ एक बार फिर शिकायत दर्ज करने के निर्देश दिए थे. इसी सिलसिले में विजय बघेल आज दोबारा लिखित में शिकायत दर्ज कराने रायपुर स्थित मुख्य निर्वाचन कार्यालय पहुंचे थे।

मंगलवार को निर्वाचन अधिकारी को सौंपे गए शिकायत पत्र में विजय बघेल ने बताया कि ”आवेदन के साथ वीडियो और दो फोटो संलग्न है जिसमें 16 नवंबर को कांग्रेस प्रत्याशी पूर्व सीएम भूपेश बघेल के रोड शो की रिकॉर्डिंग है. जिसमें देखा जा सकता है कि लाउडस्पीकर सह वादयंत्र के साथ कांग्रेस कार्यकर्ता कांग्रेस पार्टी का चिन्ह लगा टी-शर्ट पहने दिखाई दे रहे है. इस संबंध में दुर्ग के अधिकारी द्वारा जांच नहीं की गई है. उक्त वीडियो के संबंध में विशेष अधिकारी की टीम से जांच करवाना चाहिये. दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश का अवलोकन कर दुर्ग जिला प्रशासन के अधिकारियों की बजाय आपके कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारी से वीडियो जांच कर वीडियो में दिख रहे व्यक्तियों के संबंध में आदेश देने और अपराध दर्ज करवाने का कष्ट करें।

गौरतलब है कि इससे पहले विजय बघेल ने चुनाव आयोग को सौंपे गए शिकायत पत्र में कहा था कि 15 नवंबर 2023 को चुनाव प्रचार सभा, रैली इत्यादि के आयोजन पर रोक लग गई थी. लेकिन इस प्रावधान का उल्लंघन करते हुए 16 नवंबर को एक रैली और रोड शो का आयोजन किया गया था. इस रैली की फोटो और वीडियो उपलब्ध हैं. इस फोटो और वीडियो में स्पष्ट दिखाई दे रहा है कि भूपेश बघेल के द्वारा रैली का आयोजन किया जा रहा है. इसमें शासकीय कर्मचारी और पुलिस अधकारी भी इसमें शामिल हैं. कांग्रेस कार्यकर्ता भूपेश बघेल के पक्ष में नारा लगा रहे हैं।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

भाजपा प्रत्याशी की हार के बाद समर्थक ने किया ये कारनामा

Published

on

SHARE THIS

महासमुंद  : विधानसभा चुनाव के दौरान परिणामों को लेकर बड़ी संख्या में लोगों ने शर्त लगाई थी। हालांकि छत्तीसगढ़ में आये अप्रत्याशित परिणामों के चलते अनुमान है कि अधिकांश लोगों को हार का सामना करना पड़ा होगा। ऐसे ही एक वाकये के बाद एक शख्स को अपने किये गए वायदे को पूरा करना पड़ा। हुआ यूं कि महासमुंद जिले के खल्लारी विधान सभा में भाजपा से अलका चंद्राकर और कांग्रेस पार्टी से द्वारिकाधीश यादव के बीच चुनावी भिड़ंत थी। इस दौरान अलका चंद्राकर के समर्थक डेरहाराम यादव जोरशोर से प्रचार में भिड़े हुए थे। डेरहाराम बताते हैं कि वे अलका चंद्राकर की जीत के प्रति पूरी तरह आश्वस्त थे। यही वजह है कि उन्होंने अपने मित्रों के साथ शर्त लगा डाली।

शर्त भी ऐसी कि कोई भी हंसे बिना नहीं सकेगा। शर्त यह थी कि भाजपा प्रत्याशी के हारने पर डेरहाराम अपने सिर के आधे बाल और आधी मूंछ मुंडवा लेंगे। डेरहाराम ने कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्होंने शर्त लगाते समय गंगा जल की कसम नहीं खाई, क्योंकि गंगा जल की कसम खाकर लोग वादाखिलाफी कर देते हैं। चूंकि भाजपा प्रत्याशी अलका चंद्राकर खल्लारी विधानसभा से चुनाव हार गईं, इसलिए डेरहाराम ने भी शर्त में किये गए वायदे को आज पूरा किया और अपने सिर के आधे बाल और आधी मूंछ मुंडवा ली। बता दें कि ये वाकया खल्लारी विधानसभा के ग्राम बिहाझर का है, जहां इलेक्ट्रिशियन का काम करने वाले 48 वर्षीय डेरहाराम यादव ने अपने मित्रों से शर्त लगाई थी, और भाजपा प्रत्याशी की हार के बाद यादव ने अपना वादा पूरा किया और सुर्खियों में आ गए।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

बीजेपी एक्शन मोड पर,अवैध निर्माण पर दूसरे दिन भी चलाया जा रहा बुलडोजर 

Published

on

SHARE THIS

रायपुर :  3 दिसंबर को सरकार में आते ही बीजेपी एक्शन मोड पर आ गई है। राजधानी रायपुर में प्रशासन सख्त हो गया है। अवैध निर्माण पर आज दूसरे दिन भी बुलडोजर चलाया जा रहा है। जब्बार नाला वीआईपी तिराहा के पास अवैध रूप से बनाई दुकानें जमींदोज की गई है।

भारी पुलिस बल की मौजूदगी में अवैध निर्माण तोड़ा गया है। आज दिनभर सभी जोन में तोड़फोड़ के लिए विशेष दस्ता भी बनाया गया है। बता दें कि बीजेपी ने चुनाव से पहले कहा था कि अगर वह सत्ता में वापसी करते है तो सरकार संरक्षित अवैध ठिकानों पर कार्रवाई कर बुलडोजर चलेगा।

 

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

Trending