Connect with us

क्राइम

अज्ञात चोरों ने बोला धावा,16 बकरियां चुरा ले गए..

Published

on

SHARE THIS

पिथौरा: शहरी इलाका और आसपास के क्षेत्रों में लगातार चोरी की घटनाएं बढ़ रही हैं. चोरों के हौसले इतने बुलंद है कि पुलिस का खौफ नहीं दिख पा रहा है. अब तक विगत 2 माह में पिथौरा थाना क्षेत्र अंतर्गत दर्जनों चोरी की घटनाएं घट चुकी है. हाल ही में पिथौरा थाना परिसर से लगे भगवान शिव मंदिर थानेश्वर मंदिर परिसर में अज्ञात चोरों ने धावा बोल दिया और दान पेटी से रकम पार कर दिया.

मंदिर के पुजारी से मिली जानकारी अनुसार, दान पेटी से चोरों ने 15 हजार रुपए की चोरी की है. बता दें कि थानेश्वर मंदिर थाना परिसर से मात्र 50 मीटर की दूरी में ही है. मामले में शिकायत के बाद पिथौरा पुलिस चोरों की तलाश में जुटी हुई है.

वहीं पिथौरा थाना क्षेत्र के दूरस्थ गांव ग्राम डूमरपाली के किसान नरेंद्र साहू के घर से अज्ञात चोरों ने 16 बकरी पार कर दिया. बकरी मालिक से प्राप्त जानकारी के अनुसार, चोरी हुए बकरियों की कुल कीमत करीब पौने दो लाख रुपए बताई जा रही है. थाना क्षेत्र में बढ़ रही लगातार चोरी की घटनाओं से क्षेत्र में दशहत का माहौल है. वहीं अब तक चोर पुलिस की पकड़ से बाहर हैं.

SHARE THIS

क्राइम

ये हैं वे दोनों शूटर्स जिन्होंने करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को गोलियों से किया था छलनी

Published

on

SHARE THIS

जयपुर: करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के आरोपी दोनों शूटर्स की पहचान कर ली गई है। पुलिस इन दोनों शूटर्स की तलाश में जुटी हुई है। दोनों शूटर्स में से एक का नाम रोहित राठौड़ और दूसरे का नाम नितिन फौजी है। वहीं पुलिस ने उस स्कूटी को भी बरामद कर लिया है जिस पर सवार होकर आरोपी गोगामेड़ी की हत्या के लिए आए थे।  मंगलवार को दो हमलावरों ने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के घर में घुसकर उनकी गोली मारकर हत्या कर दी थी। हमलावरों ने अपने साथ एक व्यक्ति को भी गोली मार दी तथा घर में मौजूद एक अन्य व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस के मुताबिक आरोपियों को पकड़ने के लिए कड़ी नाकेबंदी की गई है। गोगामेड़ी की हत्या की जिम्मेदारी रोहित गोदारा गैंग ने ली है।

आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास तेज

पुलिस के मुताबिक हमलावर बातचीत करने के बहाने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के घर में दाखिल हुए और कुछ देर बातचीत करने के बाद उन्होंने गोलियां चलाना शुरु कर दिया। उनके अनुसार गोगामेड़ी के गार्ड ने भी जवाबी गोली चलाई।बाद में दोनों हमलावरों ने उनके साथ आये नवीन शेखावत को भी गोली मार दी। इस वारदात में गोगामेड़ी और नवीन की मौत हो गई जबकि परिचित अजीत गंभीर रूप से घायल हो गया। आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस द्वारा सख्त नाकेबंदी कर संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है।

लोगों से शांति और संयम बरतने की अपील

राजस्थान के डीजीपी ने बताया कि  लोगों से धैर्य और शांति बनाए रखने की अपील करते हुए पुलिस को विशेष सतर्कता बरतने और सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। इस घटना की रोहित गोदारा गैंग ने जिम्मेदारी ली है। इसे ध्यान में रखते हुए पड़ोसी जिलों और बीकानेर संभाग में भी बदमाशों के संपर्क वाले लोगों को चिन्हित कर पुलिस द्वारा लगातार दबिश दी जा रही है।

हरियाणा पुलिस से भी मांगा सहयोग

राजस्थान की पुलिस ने हरियाणा के पुलिस महानिदेशक से बात कर उनसे सहयोग मांगा मांगा है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि शीघ्र ही अपराधियों को गिरफ्तार करने में पुलिस टीम को सफलता मिलेगी। गोगामेड़ी पर हमले की पूरी घटना घर पर लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकार्ड हो गया। पुलिस के अनुसार बुरी तरह घायल गोगामेड़ी को मानसरोवर के एक अस्पताल में ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई। उधर, गोगामोड़ी की हत्या के विरोध में आज राजस्थान बंद का आह्वान किया गया है। इस दौरान हत्या के विरोध में जगह-जगह प्रदर्शन किए जा रहे हैं।

SHARE THIS
Continue Reading

क्राइम

राजधानी के इस इलाके में चाकूबाजी,युवक बुरी तरह से घायल

Published

on

SHARE THIS

रायपुर  :  पंडरी इलाके में चाकूबाजी की घटना हुई है. इस घटना में एक एक युवक बुरी तरह से घायल हो गया है. जिसका इलाज अस्पताल में जारी है. बताया जा रहा है यह घटना पुराने विवाद के चलते हुई है. वहीं चाकू चलाने वाले आरोपी मेहराम खान ने जब वारदात को अंजाम दिया तो लोगों ने उसे पकड़कर जमकर पीटा. चाकूबाजी की इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है. वहीं मामले में मोवा पुलिस कार्रवाई करने में जुट गई है.

जानकारी के अनुसार, पुराने विवाद को लेकर आनंद वर्मा पर आरोपी मेहरान खान उर्फ शम्मी ने चाकू से हमला किया. वहीं आरोपी मेहरान को हमले क दौरान लोगों ने पकड़ा और जमकर पिटाई कर दी. जिसमें वह भी घायल हो गया है. घटना में एक अन्य शामिल युवक शामिल था जो मौके से फरार हो गया. आरोपी मेहरान और पीड़ित दोनों को अस्पताल में इलाज जारी है.

SHARE THIS
Continue Reading

क्राइम

ज़िन्दगी से बेजार महिला ने फांसी लगाकर दी जान,मर्ग कायम कर जांच में जुटी पुलिस

Published

on

SHARE THIS

रिपोर्टर मुन्ना पांडेय ,लखनपुर सरगुजा  : राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र कहे जाने वाले विशेष आरक्षित पहाड़ी कोरवा जनजाति के एक महिला ने अज्ञात कारणों से फांसी लगाकर जान दे दी। दरअसल मामला थाना क्षेत्र के वनांचल ग्राम बेन्दोपानी का है। पुलिस सूत्रों की मानें तो बुधवारी बाई पति दीना राम कोरवा उम्र 35 साल 1 दिसम्बर को अपने मासूम बच्चियों के साथ अपने मायके ग्राम रैम्हला गई थी। आज 4 दिसम्बर दिन सोमवार को सुबह तकरीबन 8 से 9 बजे के दरमियान मायके से ससुराल वापस लौट रही थी ।रास्ते में आमाडाड बेन्दोपानी के पास पहुंची तो अपने बच्चियों को घर भेज दी और मकतुला ने अपने साड़ी का फंदा बनाकर चार पेड़ के डगाल में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।

मृतिका के देवर लहंगा राम आ0 रामसाय कोरवा उम्र 35 वर्ष निवासी ग्राम बेन्दोपानी ने घटना की इतिला थाना लखनपुर को दी। सूचना पर पुलिस घटनास्थल पहुंच मौका-मुआयना करते हुए मकतुला के शव को अपने कब्जे लेकर पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया है ।तथा धारा 174 जाफौ क़ायम कर पंचनामा कार्यवाही में लिया है। आरक्षित पहाड़ी कोरवा जनजाति महिला ने खुदकुशी क्योंकि की इस बात का खुलासा नहीं हो सका है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

Trending