Connect with us

देश-विदेश

भारत के लिए रूस ने खोली सस्ते तेल की टंकी…

Published

on

SHARE THIS

रूस:- जब-जब भी भारत को मुसीबत में किसी दोस्त की जरुरत पड़ी है, तब—तब रूस सबसे पहले निकलकर सामने आया है. सस्ते तेल की बात जब आई तो रूस बीते दो साल से भारत का साथ लगातार दे रहा है. वैसे बीते कुछ समय से रूसी तेल की हिस्सेदारी भारत के तेल बास्केट में कम हुई थी लेकिन अप्रैल के महीने में इंटरनेशनल मार्केट में तेल महंगा होने की वजह से रूसी तेल की भारत में आवक फिर से 40 फीसदी पर आ गई. खास बात तो ये है अप्रैल के महीने में मिडिल ईस्ट देशों से लेकर अमेरिका तक की सप्लाई में अप्रैल के महीने में काफी कमी देखने को मिली है. वास्तव में इंडियन रिफाइनरीज को कच्चे तेल की खरीद की एवरेज कॉस्ट कम करने के लिए रूस से सप्लाई बढ़ानी पड़ी. आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर कच्चे तेल के इंपोर्ट को लेकर किस तरह के आंकड़ें सामने आए हैं.

कितना लिया रूसी तेल

एनर्जी कार्गो ट्रैकर वोर्टेक्सा के अनुसार रूस ने भारतीय कच्चे तेल के आयात में अपनी हिस्सेदारी मार्च में 30 फीसदी से बढ़ाकर अप्रैल में लगभग 40 फीसदी कर दी है. वैसे ये आंकड़ा पिछले साल जुलाई में 42 फीसदी के अपने लाइफ टाइम हाई से कम है. भारतीय रिफाइनर्स ने अप्रैल में रूस से प्रति दिन 1.78 मिलियन बैरल (एमबी/डी) कच्चे तेल का इंपोर्ट किया, जो मार्च से 19 फीसदी अधिक है. यह अप्रैल में चीन के 1.27 मिलियन बैरल (एमबी/डी) और यूरोप के 396,000 बैरल प्रति दिन (बीपी/डी) रूसी कच्चे तेल के इंपोर्ट से ज्यादा हो गया. खास बात तो ये है कि अप्रैल में रूस ने इराक, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात – की तुलना में भारत को अधिक तेल की सप्लाई की है.

मिडिल ईस्ट से कम किया इंपोर्ट

हालांकि, भारत का कुल क्रूड ऑयल इंपोर्ट आयात अप्रैल में महीने-दर-महीने 8 फीसदी गिरकर 4.5 mb/d हो गया. दूसरे सबसे बड़े सप्लायर, इराक से इंपोर्ट 31 फीसदी गिरकर 776,000 बैरल प्रति दिन (बीपी/डी) हो गया. वहीं दूसरी ओर सऊदी अरब से सप्लाई 6 फीसदी गिरकर 681,000 बैरल/दिन हो गई. भारत को यूएई का निर्यात 40 फीसदी गिरा और अमेरिका से निर्यात 15 फीसदी कम हो गया. भारतीय इंपोर्ट में इराक की हिस्सेदारी मार्च के 23 फीसदी से गिरकर अप्रैल में 17 फीसदी हो गई, जबकि संयुक्त अरब अमीरात की हिस्सेदारी 9 फीसदी से घटकर 6 फीसदी हो गई. अप्रैल में रूस की हिस्सेदारी 2023-24 के औसत 35 फीसदी से ज्यादा थी.

क्यों लेना पड़ा रूसी तेल

वोर्टेक्सा की विश्लेषक सेरेना हुआंग ने कहा कि अप्रैल में भारत का रूसी कच्चे तेल का आयात नौ महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया. फरवरी/मार्च में उच्च रूसी कच्चे तेल के निर्यात के साथ-साथ चीनी रिफाइनर्स द्वारा कम इंपोर्ट ने भी ने भारतीय रिफाइनर्स को ज्यादा कच्चा तेल अवेलेबल हो सका. इंडस्ट्री से जुड़े लोगों ने कहा कि इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमतों में इजाफा होने के कारण भारत की रिफाइनरीज में रूसी कच्चे तेल की डिमांड मं इजाफा हो गया है. इसका प्रमुख कारण ये है कि कच्चे तेल के महंगा होने के कारण भारतीय रिफाइनर के मुनाफे में असर डाल रहा है. देश के टॉप रिफाइनर इंडियन ऑयल के चौथी तिमाही के मुनाफे में 52 फीसदी की गिरावट दर्ज की है. मौजूदा समय में ब्रेंट क्रूड ऑयल के दाम फिजिकल डिमांड और सप्लाई स्टेटस और जियो पॉलिटिकल टेंशन की वजह प्रीमियम पर है.

कितना सस्ता मिल रहा कच्चा तेल

दूसरी ओर रूसी क्रूड, फ्री-ऑन-बोर्ड बेस पर ब्रेंट के मुकाबले 7-8 डॉलर प्रति बैरल की छूट पर उपलब्ध है. बंदरगाह पर डिलीवरी के आधार पर छूट लगभग 2-3 डॉलर प्रति बैरल तक सीमित हो जाती है, जो भारतीय रिफाइनरों द्वारा रूसी कच्चे तेल की खरीद का पसंदीदा तरीका है. अप्रैल और मार्च दोनों में भारत की रूसी तेल खरीद में यूराल की हिस्सेदारी 89 फीसदी थी. प्राइवेट सेक्टर के रिफाइनर – रिलायंस इंडस्ट्रीज और नायरा एनर्जी – ने अप्रैल में सभी रूसी कच्चे तेल इंपोर्ट का 45 फीसदी हिस्सा लिया. नायरा एनर्जी का आंशिक स्वामित्व रूसी ऊर्जा दिग्गज रोसनेफ्ट के पास है.

SHARE THIS

देश-विदेश

दर्दनाक सड़क हादसा, 5 बच्चों समेत एक ही परिवार के 13 लोगों की गई जान

Published

on

SHARE THIS

लाहौर: पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में शनिवार को एक मिनी ट्रक के सड़क से फिसलकर गड्ढे में गिर जाने से उसमें सवार पांच बच्चों सहित एक ही परिवार के कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई। इस दर्दनाक हादसे में नौ अन्य लोग घायल हो गए हैं। बचाव अभियान में जुटे अधिकारियों ने हादसे को लेकर जानकारी दी है। हादसे के बाद मौके पर स्थानीय लोगों की भारी भीड़ जुट गई। स्थानीय लोगों ने हादसे के बाद लोगों की मदद भी की।

खैबर पख्तूनख्वा से पंजाब आ रहा था ट्रक 

‘रेस्क्यू-1122’ के मुताबिक, यह मिनी ट्रक खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बन्नू जिले से पंजाब के खुशाब जिले की ओर आ रहा था, तभी यह हादसा हुआ। लाहौर से करीब 250 किलोमीटर दूर खुशाब के पेंच पीर इलाके में यह हादसा हुआ। जानकारी के मुताबिक हादसा उस वक्त हुआ जब एक मोड़ पर मिनी ट्रक सड़क से फिसलकर गड्ढे में गिर गया।

इस वजह से हुआ हादसा 

एक अधिकारी ने बताया, ‘‘पांच बच्चों समेत 13 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। नौ घायलों को अस्पताल ले जाया गया है, जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है।’’ कुछ प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, तेज गति के कारण मिनी ट्रक के चालक ने नियंत्रण खो दिया, जिस कारण यह हादसा हुआ।

सीएम नवाज ने जताया दुख 

पंजाब की मुख्यमंत्री मरयम नवाज ने दुर्घटना में लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है। नवाज ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि हदसे में घायल हुए लोगों को बेहतर उपचार सुविधाएं प्रदान की जाएं।

SHARE THIS
Continue Reading

देश-विदेश

भारत को 70 साल से परेशान करने वाले पाकिस्तान के हाथ में भीख का कटोरा है, PM मोदी की 10 बड़ी बातें

Published

on

SHARE THIS

अंबालाः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा के अंबाला जिले में शनिवार को जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस समेत विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि हरियाणा वो राज्य है जिसके रगों में देशभक्ति है और वो देश को तोड़ने वाली शक्तियों को अच्छी तरह पहचानते हैं। हरियाणा मतलब धाकड़ होता है और मोदी ने भी 10 साल तक धाकड़ सरकार चलाई है।

  1. रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 4 जून में अब सिर्फ 17 दिन बचे है। चार चरणों के चुनाव में कांग्रेस और इंडी गठबंधन के सभी साथी चारों खाने चित्त हो चुके हैं। इंडी गठबंधन वालों ने देश के खिलाफ जो भी दांव-पेंच चले थे, उन्हें चुनाव के मैदान में जनता-जनार्दन ने खुद पटखनी दे दी है।
  2.  कांग्रेसी, भारत की सेनाओं को कमजोर बनाकर रखते थे ताकि विदेश से हथियार मंगाने के नाम पर मोटी कमाई कर सकें। हमारे सैनिकों को कपड़े, जूते, बुलेट प्रूफ जैकेट भी ठीक से नसीब नहीं होते थे। उनके पास अच्छी राइफल तक नहीं थीं। मैंने भारत की सेनाओं को आत्मनिर्भर बनाने का अभियान शुरु किया। आज सेना को मेड इन इंडिया हथियार मिल रहे हैं। जो भारत कभी दूसरे देशों से हथियार मंगाता था, वो अब दूसरे देशों को हथियार बेच रहा है।
  3. कांग्रेस का इतिहास, हमारी सेनाओं को, फौजियों को धोखा देने का रहा है। देश का पहला घोटाला कांग्रेस ने भारत की सेना में ही किया था। इस ट्रैक रिकॉर्ड को कांग्रेस जब तक सत्ता में रही, हमेशा बनाए रखा। बोफोर्स घोटाला, पनडुब्बी घोटाला, हेलीकॉप्टर घोटाला…
  4. कांग्रेस को सिर्फ वोट से मतलब है। दिल्ली और हरियाणा में हाथ में झाड़ू लेकर घूम रहे हैं और पंजाब में कह रहे हैं कि झाड़ूवाला चोर है।
  5. दुनिया में आज हरियाणा का इतना नाम है, तो उसके पीछे हमारे बेटियों की ताकत है। मोदी ने बेटियों के लिए सैनिक स्कूलों के भी दरवाजे खोल दिए हैं। अभी NDA में महिला कैडेट्स का जो बैच ट्रेनिंग ले रहा है, उसमें बड़ी संख्या में हरियाणा की बेटियां हैं।
  6. किसानों का कल्याण मोदी की प्राथमिकता है। कांग्रेस के जमाने में 2014 से पहले 10 साल में देश के किसानों से सिर्फ 7.5 लाख करोड़ रुपए का अनाज MSP पर खरीदा गया था। हमने पिछले 10 साल में, 20 लाख करोड़ रुपए का अनाज किसानों से MSP पर खरीदा।
  7. मोदी विकसित भारत का संकल्प लेकर निकला है और विकसित भारत के 4 स्तंभ हैं। गरीब, युवा, महिलाएं और किसान… मोदी इन्हें मजबूत कर रहा है ताकि भारत मजबूत हो।
  8. ये हमारी सरकार है, जो अफगानिस्तान के युद्धक्षेत्र से गुरु ग्रंथ साहिब के स्वरूपों को अदब के साथ स्वदेश लाई। हमारी सरकार ने ही साहिबजादों की याद में ‘वीर बाल दिवस’ मनाना शुरु किया है।
  9.  अंबाला में जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मोदी ने 10 साल तक हरियाणा की तरह सरकार भी धाकड़ चलाई है…आज मैं आपसे अगले 5 साल के लिए आशीर्वाद मांगने आया हूं…चार चरण के मतदान में INDI गठबंधन के सभी दल चारों खाने चित हो चुके हैं।”
  10. आज हमारे बहुत पुराने साथी, जिन्होंने संगठन में भी काम किया, सरकार में भी काम किया, ​हमारे रतन लाल कटारिया जी की बरसी है। मैं उन्हें श्रद्धांजलि देता हूं। 

 

 

SHARE THIS
Continue Reading

देश-विदेश

राजस्‍थान के 5 शहरों में पहली बार एक साथ तापमान 46 डिग्री पार..

Published

on

SHARE THIS
राजस्‍थान में इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है। दोपहर को गांवों से लेकर शहरों के प्रमुख चौराहा तक में गर्मी का कर्फ्यू सा लगा नजर आया। मौसम 2024 की सीजन में गर्मी पूरे शबाब पर रही। सीजन में पहली बार पांच शहरों का अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया शुक्रवार गर्मी की इस सीजन का सबसे गर्म दिन रहा है। पांच शहर बाड़मेर, धौलपुर, फतेहपुर, जालौर व फलौदी में जहां तापमान 46 डिग्री सेल्सियस पार चला गया। वहीं, भीलवाड़ा, उदयपुर, जोधपुर और हनुमानगढ़ में तेज आंधी के साथ बारिश हुई। बारिश होने के बाद मौसम सुहावना हो गया और गर्मी से राहत मिली।

10 प्रमुख जगहों का तापमान
बाड़मेर-46.5
धौलपुर-46.4
फतेहपुर-46.3
जालौर-46.2
फलौदी-46
पिलानी-45.9
जैसलमेर-45.8
चूरू-45.7
वनस्‍थली-45.8
जोधपुर-45
14 जिलों में यलो अलर्ट जयपुर स्थित मौसम केंद्र निदेशक राधेश्‍याम शर्मा के अनुसार विभाग ने आगामी तीन दिन के लिए भीषण लू का अलर्ट जारी किया है। इस दौरान प्रदेश में अधिकतम तापमान 48 डिग्री सेल्सियस पहुंच सकता है। अगले तीन दिन तीन से चार जिलों में हीट वेव का ऑरेंज और 14 जिलों में येलो अलर्ट घोषित किया है। अगले दो-तीन अधिकतम तापमान सामान्‍य से 3 डिग्री तक ऊपर जा सकता है।

मई के आखिरी हफ्ते में बढ़ेगी गर्मी मौसम विभाग के अनुसार मार्च-अप्रैल में तापमान सामान्‍य से कम रहने के बाद गर्मी ने मई में तेवर दिखाना शुरू कर दिया था। अब मई के आखिरी हफ्ते में गर्मी का असर बढ़ेगा। इस सीजन में अकेले मई में ही वेव का यह दूसरा फेज है। मई के अंत में भीषण गर्मी पड़ने की संभावना है। इस दौरान कई शहरों में दिन-रात का तापमान सामान्‍य से तीन से चार डिग्री ऊपर जा सकता है।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

WEBSITE PROPRIETOR AND EDITOR DETAILS

Editor/ Director :- Rashid Jafri
Web News Portal: Amanpath News
Website : www.amanpath.in

Company : Amanpath News
Publication Place: Dainik amanpath m.g.k.k rod jaystbh chowk Raipur Chhattisgarh 492001
Email:- amanpathasar@gmail.com
Mob: +91 7587475741

Trending