Connect with us

खबरे छत्तीसगढ़

*खनिज विभाग की कार्रवाई, अवैध रेत व ईंट परिवहन करते चार डम्पर व पांच ट्रेक्टर जप्त*

Published

on

SHARE THIS

तपेश शर्मा सक्ती । खनिज विभाग द्वारा आज चन्द्रपुर में रेत और लाल ईंट का अवैध परिवहन करते हुए चार डम्पर और पांच ट्रेक्टर को पकड़ कर थाने में सुपुर्द किया।
ज्ञात हो कि खनिज विभाग का उड़नदस्ता आज अवैध परिवहन और अवैध उत्खनन को रोकने निकला था जिसमें चन्द्रपुर में चार डम्पर और पांच ट्रेक्टर को रेत और लाल ईंट भरा देख रोका जिनके पास परिवहन संबंधी वैध कागजात नहीं मिले। जिस पर खनिज विभाग के उड़नदस्ता ने कार्रवाई करते हुए सभी वाहनों को थाने के सुपुर्द कर आग्रिम कार्रवाई कर रही है। बता दें कि जांजगीर जिले में रेत और ईंट के अवैध कारोंबारियों की भरमार है वहीं अवैध बोल्डर भी बहुताय मात्रा में रोज अवैध रूप से परिवहन होता है। ऐसा नहीं कि इस बात की विभाग के पास जानकारी नहीं है, लेकिन विभाग भी अचानक ही जागता है और कुछ लोगों पर कार्रवाई के नाम से खानापूर्ति कर फिर ठंडा हो जाता है। खनिज विभाग को कई लोग तो अब कुम्भकरण की भी संज्ञा देने लगे हैं। लेकिन खनिज विभाग कुम्भकरण से भी दो अदम आगे है। कुम्भकरण भी छः माह सोता था और छः माह जागता था लेकिन यहा खनिज विभाग महीने या दो महीने में एक बार ही जागता है, और कुछ लोगों पर कार्रवाई कर फिर मदमस्त होकर सो जाते है। सक्ती, मालखरौदा, जैजेपुर, और डभरा विकास खण्ड में अवैध रेत और लाल ईंट के साथ साथ अवैध पत्थर परिवहन और उत्खनन का कार्य बहुत ही बड़े पैमाने में होता है। यह कहना भी गलत नहीं होगा कि इस अवैध करोबार का अवैध बजट भी जिले में सबसे ज्यादा है। भले ही खनिज विभाग कार्रवाई के नाम पर दो चार गाड़ियां साल में एक दो बार पकड़ लेता है लेकिन यह उनका जो कम रूप में इस अवैध कारोबार को करते हैं। जो पूरी तरह से रेत, ईंट और पत्थर के माफिया हैं उनके उपर विभाग भी कार्रवई नहीं करता है। ऐसा नहीं है कि विभाग के पास इन माफियाओं की जानकारी नहीं हैं लेकिन विभाग भी माफियाओं के आकाओं सामने कुछ कर भी नहीं सकता है। अगर विभाग में कोई हिम्मत कर कार्रवाई करने की सोंच भी लेता है तो उसपर ट्रांसफर की कार्रवाई हो जाती है। वैसे भी यह बात किसी से छुपी नहीं हैं कि पूरे प्रदेश में खनिज विभाग ही एक ऐसा विभाग हैं जो चढ़ावे के नाम पर सबसे बड़ा धन कुबेर है। सिर्फ सक्ती क्षेत्र से ही चढ़ावा का आंकड़ा महीने का करीब 5 करोड़ रूपया है, अब ऐसे में आती हुई लक्ष्मी को कोई कैसे मना करें, माना कि कोई मना कर भी दे तो उपर बैठे सफेद पोश आकाओं को चढ़ावा तो कोई अपने वेतन से नहीं देगा। बहरहाल 23 फरवरी की कार्रवाई खनिज विभाग के लिए एक बड़ी कार्रवाई है। अब देखना है कि इस तरह की कार्रवाई चलती रहेगी या फिर सिर्फ आंकड़ों को पूरा करने के बाद फिर से कार्रवाई बंद हो जाएगी ये तो वक्त ही बताएगा। प्राप्त जानकारी के अनुसार 23 फरवरी की कार्रवाई खनिज विभाग के उड़नदस्ता टीम पीडी जाड़े और आदित्य मानकर ने जिला खनिज अधिकारी एनके सुर के दिशा निर्देंश में की।
इस संबंध में एन.के. सुर ,
जिला खनिज अधिकारी जांजगीर ने कहा कि खनिज विभाग लगातार कार्रवाई करेगी, साथ ही अगर अवैघ उत्खनन और परिवहन की भी शिकायत मिलेगी तो उस पर भी तत्काल कार्रवाई की जाएगी। अभी जिले में सिर्फ 15 रेत समूहों का ही ठेका हुआ है, इसके अलावा अगर कहीं और से रेत का अवैध खनन हो रहा है वह पूरी तरह से अवैध है और इस पर कार्रवाई की जाएगी। विभाग समय समय में कार्रवाई करता है लेकिन इस बार कार्रवाई लगातार चलेगी जब तक अवैध परिवहन और खनन पर पूरी तरह से अंकुश ना लग जाए। विभाग किसी दबाव में काम ना तो करता है और ना ही कर रहा है। सूचना के माध्यम से और रूटिंग चेंकिंग के हिसाब से विभाग अपनी कार्रवाई करता रहता है।

SHARE THIS

खबरे छत्तीसगढ़

दुर्ग को मिलेगी संगीत महाविद्यालय की सौगात

Published

on

SHARE THIS

दुर्ग। दुर्ग में संगीत महाविद्यालय की शुरुआत इसी साल हो जाएगी। यह महाविद्यालय हेमचंद यादव विवि की संबद्धता से नहीं बल्कि खैरागढ़ संगीत विश्वविद्यालय चलाएगा। उच्च शिक्षा विभाग ने गुरुवार को इस संबंध में आदेश जारी किया है।

विभाग के क्षेत्रीय अपर संचालक को महाविद्यालय के लिए जल्द से जल्द भवन तलाशने की जिम्मेदारी दी गई है। संभवत: यह कॉलेज अपने शुरुआत साल में किसी शासकीय स्कूल में भी संचालित किया जा सकता है, क्योंकि अपर संचालक द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी को पत्र लिखकर शासकीय स्कूल के भवन की मांग की गई है।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

सीएनएम कमांडर समेत 2 नक्सलियों ने किया सरेंडर

Published

on

SHARE THIS

सुकमा। जिले में एक लाख रुपये के इनामी नक्सली समेत दो नक्सलियों ने गुरुवार को आत्मसमर्पण कर दिया. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि नक्सलियों ने पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की दूसरी बटालियन के अधिकारियों के सामने ‘अमानवीय’ और ‘खोखली’ माओवादी विचारधारा से निराशा का हवाला देते हुए सरेंडर कर दिया.पुलिस ने उनकी पहचान माओवादियों की सांस्कृतिक शाखा चेतना नाट्य मंडली (सीएनएम) के कमांडर वेट्टी राजा और मिलिशिया सदस्य रवा सोमा के रूप में की है. राजा पर एक लाख रुपये का इनाम था.

दोनों ने पुलिस को बताया कि वे नक्सलियों के लिए जिला पुलिस के पुनर्वास अभियान ‘पूना नार्कोम’ (स्थानीय गोंडी बोली में गढ़ा गया एक शब्द जिसका अर्थ है नई सुबह या नई शुरुआत) से भी प्रभावित थे. पुलिस ने कहा कि आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों को छत्तीसगढ़ सरकार की आत्मसमर्पण और पुनर्वास नीति के अनुसार सुविधाएं प्रदान की जाएंगी.

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

जगदलपुर में आज कांग्रेस की संभागीय सम्मेलन, सीएम भूपेश बघेल भी होंगे शामिल

Published

on

SHARE THIS

रायपुर। कांग्रेस प्रदेश में जगदलपुर से आज संभागीय सम्मेलन के सहारे चुनावी आगाज करने जा रही है। अभी तक जिलों, ब्लॉकों और विधानसभावार सम्मेलन करने वाली कांग्रेस पहली बार इस तरह का आयोजन कर कार्यकर्ताओं को बड़ा संदेश देने जा रही है। इस कार्यक्रम में प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पीसीसी चीफ मोहन मरकाम समेत तमाम दिग्गज नेता मौजूद रहेंगे।

बताया गया है कि इस सम्मेलन के माध्यम से कांग्रेस आगामी चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोलगी। क्योंकि वर्तमान में बस्तर की 12 सीटें कांग्रेस के पास हैं ऐसे में विधानसभा वार विधायकों के परफार्मेंस को लेकर भी कार्यकर्ताओं से फीडबैक लिया जाएगा क्योंकि कांग्रेस किसी भी सूरत में अपनी सीट कम नहीं होने देना चाह रही है।

बस्तर के बाद शेष चारों संभागों में सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे। बताया गया है कि बारिश की संभावना को देखते हुए रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर और सरगुजा में 15 जून के पहले सभी सम्मेलन आयोजित कर लिए जाएंगे। बताया गया है कि दुर्ग में रायपुर, बिलासपुर और अंबिकापुर में टीएस विदेश से लौटने पर सम्मेलन आयोजित किया जाएगा।

SHARE THIS
Continue Reading

Trending