Connect with us

खबरे छत्तीसगढ़

जिले के 58 छात्रावास/आश्रमों में दैनिक उपयोग की वस्तुएं सहित खाद्यान्न, ताजी सब्जियां पहुंचाने की व्यवस्था की गई सामग्रियों के मूल्य में एकरूपता तथा पारदर्शिता लाने के उद्देश्य से जिला प्रशासन धमतरी द्वारा ’बिहान’ के जरिए

Published

on

SHARE THIS

ललित साहू धमतरी, 26 अप्रैल 2020/ सामग्रियों के मूल्य में एकरूपता तथा पारदर्शिता लाने के उद्देश्य से महिला स्व सहायता समूह ’बिहान’ के जरिए जिले में आदिवासी विकास विभाग द्वारा संचालित 58 छात्रावास एवं आश्रमों में दैनिक उपयोग की वस्तुओं सहित खाद्यान्न और किसान बाजार से ताजी हरी सब्जियां पहुंचाने की व्यवस्था की गई। इससे जहां छात्रावास/आश्रम अधीक्षक एवं कर्मचारियों को संस्था से दूर सामान खरीदने जाने के लिए उन पर पड़ने वाले परिवहन व्यय के अतिरिक्त बोझ से निजात मिली, वहीं निश्चित मूल्य एवं गुणवत्तायुक्त सामग्रियों के मिलने के अलावा महिला स्व सहायता समूहों को आजीविका उपार्जन का अवसर मिला।
सहायक आयुक्त, आदिवासी विकास विभाग ने बताया कि छात्रावास-आश्रमों की समस्याओं को ध्यान में रख जिला प्रशासन धमतरी द्वारा नई पहल किया गया। उन्होनें बताया कि इसके लिए सबसे पहले छात्रावास/ आश्रमों की महीने की जरूरतों का आंकलन किया गया तथा ’बिहान’ के तहत विभिन्न समूहों को इन सामग्रियों के उत्पादन और बेचने के लिए अधिकृत किया गया। इसमें महिला स्व सहायता समूहों ने खुशी-खुशी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया तथा जरूरत के मुताबिक सामग्रियों को उत्पादित कर संस्थाओं में सामग्रियांे के अलावा किसान बजार के माध्यम से ताजी एवं हरी सब्जियां भी नियमित रूप से संस्थाओं में पहुंचाने की व्यवस्था की गई। इस पहल से जहां छात्रावास-आश्रमों को नियमित एवं निश्चित मूल्य पर गुणवत्तापूर्ण सामग्रियांे की घर पहुंच सेवा की व्यवस्था हुई, वहीं महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं की भी आजीविका में संवर्धन तथा हर माह आमदनी निश्चितता की भी व्यवस्था हुई।

SHARE THIS

खबरे छत्तीसगढ़

दुर्ग को मिलेगी संगीत महाविद्यालय की सौगात

Published

on

SHARE THIS

दुर्ग। दुर्ग में संगीत महाविद्यालय की शुरुआत इसी साल हो जाएगी। यह महाविद्यालय हेमचंद यादव विवि की संबद्धता से नहीं बल्कि खैरागढ़ संगीत विश्वविद्यालय चलाएगा। उच्च शिक्षा विभाग ने गुरुवार को इस संबंध में आदेश जारी किया है।

विभाग के क्षेत्रीय अपर संचालक को महाविद्यालय के लिए जल्द से जल्द भवन तलाशने की जिम्मेदारी दी गई है। संभवत: यह कॉलेज अपने शुरुआत साल में किसी शासकीय स्कूल में भी संचालित किया जा सकता है, क्योंकि अपर संचालक द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी को पत्र लिखकर शासकीय स्कूल के भवन की मांग की गई है।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

सीएनएम कमांडर समेत 2 नक्सलियों ने किया सरेंडर

Published

on

SHARE THIS

सुकमा। जिले में एक लाख रुपये के इनामी नक्सली समेत दो नक्सलियों ने गुरुवार को आत्मसमर्पण कर दिया. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि नक्सलियों ने पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की दूसरी बटालियन के अधिकारियों के सामने ‘अमानवीय’ और ‘खोखली’ माओवादी विचारधारा से निराशा का हवाला देते हुए सरेंडर कर दिया.पुलिस ने उनकी पहचान माओवादियों की सांस्कृतिक शाखा चेतना नाट्य मंडली (सीएनएम) के कमांडर वेट्टी राजा और मिलिशिया सदस्य रवा सोमा के रूप में की है. राजा पर एक लाख रुपये का इनाम था.

दोनों ने पुलिस को बताया कि वे नक्सलियों के लिए जिला पुलिस के पुनर्वास अभियान ‘पूना नार्कोम’ (स्थानीय गोंडी बोली में गढ़ा गया एक शब्द जिसका अर्थ है नई सुबह या नई शुरुआत) से भी प्रभावित थे. पुलिस ने कहा कि आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों को छत्तीसगढ़ सरकार की आत्मसमर्पण और पुनर्वास नीति के अनुसार सुविधाएं प्रदान की जाएंगी.

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे छत्तीसगढ़

जगदलपुर में आज कांग्रेस की संभागीय सम्मेलन, सीएम भूपेश बघेल भी होंगे शामिल

Published

on

SHARE THIS

रायपुर। कांग्रेस प्रदेश में जगदलपुर से आज संभागीय सम्मेलन के सहारे चुनावी आगाज करने जा रही है। अभी तक जिलों, ब्लॉकों और विधानसभावार सम्मेलन करने वाली कांग्रेस पहली बार इस तरह का आयोजन कर कार्यकर्ताओं को बड़ा संदेश देने जा रही है। इस कार्यक्रम में प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पीसीसी चीफ मोहन मरकाम समेत तमाम दिग्गज नेता मौजूद रहेंगे।

बताया गया है कि इस सम्मेलन के माध्यम से कांग्रेस आगामी चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोलगी। क्योंकि वर्तमान में बस्तर की 12 सीटें कांग्रेस के पास हैं ऐसे में विधानसभा वार विधायकों के परफार्मेंस को लेकर भी कार्यकर्ताओं से फीडबैक लिया जाएगा क्योंकि कांग्रेस किसी भी सूरत में अपनी सीट कम नहीं होने देना चाह रही है।

बस्तर के बाद शेष चारों संभागों में सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे। बताया गया है कि बारिश की संभावना को देखते हुए रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर और सरगुजा में 15 जून के पहले सभी सम्मेलन आयोजित कर लिए जाएंगे। बताया गया है कि दुर्ग में रायपुर, बिलासपुर और अंबिकापुर में टीएस विदेश से लौटने पर सम्मेलन आयोजित किया जाएगा।

SHARE THIS
Continue Reading

Trending