Connect with us

क्राइम

*टिकरापारा गोलीकांड के आरोपियों को पुलिस ने दबोचा मृतक सहित पकड़े गए आरोपियों ने सराफा व्यापारी से की गई थी लूट , माल के बंटवारे को लेकर आरोपियों ने मृतक की हत्या की*

Published

on

SHARE THIS

रायपुर ।थाना टिकरापारा क्षेत्रांतर्गत हुए गोलीकाण्ड के मामले में पुलिस ने 2 आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपियों से दिसम्बर 2018 में राजेन्द्र नगर क्षेत्र में हुई सराफा व्यापारी से हुई लूट का भी खुलासा हुआ है। पुलिस ने बताया कि लूट के सामान के बटवारें के विवाद को लेकर आरोपी (मृतक) राकेेश जायसवाल की हत्या की गई।घटना टिकरापारा क्षेत्रांतर्गत गोकुल नगर बोरियाखुर्द में हुई थी,जहां गोली मार कर राकेश जायसवाल की हत्या कर दी गई थी।पुलिस ने बताया कि
मृतक मूलतः है जौनपुर उत्तरप्रदेश का निवासी जो पिछले 3 वर्षो से रायपुर में निवास कर रहा था ।मृतक राकेश जायसवाल का वास्तविक नाम नीरज शुक्ला है जो रायपुर में नाम बदलकर निवास कर रहा था
पुलिस ने बताया कि मृतक पूर्व से शादीशुदा था और जौनपुर से दूसरी महिला को भगाकर रायपुर लेकर आया था और नाम परिवर्तित कर, रायपुर में निवास।कर रहा था मृतक ने दिसम्बर 2018 में अपने अन्य दो साथियों के साथ मिलकर राजेन्द्र नगर थाना क्षेत्र में सराफा व्यापारी से लूट की घटना को अंजाम दिया था ,और लूट के माल के बटवारे को लेकर उसका अपने अन्य दो साथियों से विवाद चल रहा था ।
और माल बटवारे के विवाद को लेकर ही लूट के अन्य दो साथियों ने मृतक राकेश जायसवाल की हत्या कर दी ।
पकड़ गये आरोपी अनुपम झा उर्फ अमर एवं दिलीप राय है जो मूलतः क्रमशः बिहार एवं मुम्बई के रहने वाले है । आरोपियों से बोथरा काण्ड सहित अन्य लूट के मामलों में पूछताछ की जा रही है
पूछताछ में आरोपियों से अन्य राज्यों के लूट के मामलों का भी खुलासा हो सकता है।आरोपियों के कब्जे से घटना में प्रयुक्त पिस्टल बरामद किया गया है ।पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए घटना के संबंध में बताया कि प्रार्थी विजय पटेरिया ने रिपोर्ट दर्ज कराया हैं कि वह बोरिया आर डी ए कालोनी में रहता है तथा डूमरतरई डायकिन एसी डिपो सुरक्षा गार्ड की नौकरी करता है। 2 जनवरी को ड्युटी कर रात करीब 8ः30 बजे सायकल से वापस आते समय बिजली आफिस बोरिया खुर्द आर डी ए कालोनी रोड में एक ब्यक्ति पडा हुआ था जिसे देख कर रूका जिसे प्रार्थी द्वारा पूछने पर उस ब्यक्ति ने अपना नाम राकेश तथा आर. ब्लाक आर डी ए कालोनी में रहना बताया तथा उसे किसी व्यक्ति ने गोली मारी है कहते हुए बेहोश हो गया जिस पर प्रार्थी के द्वारा डायल 112 में फोन कर बताया जिसे तत्काल पुलिस के साथ ईलाज हेतु मेकाहारा ले गये जहां पर डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया। थाना टिकरापारा पुलिस ने धारा 302 भादवि. 25, 27 आम्र्स एक्ट पंजीबद्ध किया गया है।
पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ एच शेख द्वारा स्वयं घटना स्थल का निरीक्षण किया गया एवं गोलीकांड के प्रकरण को गंभीरता से लिया जाकर अति0 पुलिस अधीक्षक अपराध, नगर पुलिस अधीक्षक उरला एवं पुरानी बस्ती को आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी का निर्देश दिया गया, जिस पर अति0 पुलिस अधीक्षक अपराध, नगर पुलिस अधीक्षक उरला एवं पुरानी बस्ती द्वारा थाना टिकरापारा एवं सायबर सेल की एक विशेष टीम का गठन कर अज्ञात आरोपियों की पतासाजी प्रारंभ की टीम द्वारा घटना स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया गया एवं आसपास के लोगों से भी पूछताछ किया गया। घटना स्थल के आसपास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों को खंगालने के साथ – साथ तकनीकी विश्लेषण व मुखबीर के माध्यम से भी अज्ञात आरोपियों की पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहे थे। इसी दौरान टीम को मृतक राकेश जायसवाल के संबंध में जानकारी प्राप्त हुई कि राकेश जायसवाल का वास्तविक नाम नीरज शुक्ला है जो मूलतः जौनपुर उत्तरप्रदेश का निवासी है एवं आज से 03 वर्ष पूर्व एक महिला को लेकर जौनपुर से भागकर रायपुर आया था और रायपुर में नाम बदल कर निवास कर रहा था। इसके बाद टीम द्वारा नीरज शुक्ला उर्फ राकेश जायसवाल के संबंध में जानकारी एकत्रित करना प्रारंभ किया गया एवं उसके साथ घूमने वाले लोगो की जानकारी भी एकत्रित की गई साथ ही तकनीकी विश्लेषण भी प्रारंभ किया गया। इसी दौरान टीम को महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होने पर टीम आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु मध्यप्रदेश रवाना की गई। टीम द्वारा अनुपपुर जिले पहुंचकर कैम्प करते हुए आरोपी अनुपम झा एवं दिलीप राय उर्फ गोलू को हिरासत में लिया गया एवं पूछताछ प्रारंभ की गई। पूछताछ करने पर आरोपी द्वारा बार-बार बयान बदलकर पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा था किन्तु मनोवैज्ञानिक ढंग से पूछताछ करने पर आरोपियों ने मृतक नीरज शुक्ला उर्फ राकेश जायसवाल की हत्या करना स्वीकार किया । घटना का कारण आरोपियों द्वारा पूर्व में कारित अपराध के मशरूका की हिस्सेदारी को लेकर परस्पर विवाद होना बताया। चूंकि मृतक एवं उसके साथियों के संबंध में जानाकरी प्राप्त हुई कि इनके द्वारा और भी घटनाओं को अंजाम दिया गया है इसलिए आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ प्रारंभ की गई जिससे आरोपियों द्वारा बताया गया कि दिसम्बर 2018 में राजेन्द्र नगर क्षेत्र में मृतक एवं उनके द्वारा मिलकर एक सराफा व्यापारी के साथ लूट की घटना की गई थी जिसके माल के बटवारे को लेकर मृतक के साथ उनका विवाद चल रहा था एवं घटना वाले दिन आरोपियों ने मारने के उद्देश्य से ही नीरज शुक्ला उर्फ राकेश को बुलाया था और उसे गोली मार कर फरार हो गये। आरोपियों की निशानदेही परे अनुपम झा के घर से लूटे गये माल में से लगभग 05 किलो चांदी के जेवरात एवं लगभग 160 ग्राम सोने के जेवरात बरामद किया गया है एवं लूट के सामान के बिक्री से खरीदा गया काले रंग का स्कोडा कार एवं स्कूटी भी बरामद किया गया। चूंकि आरोपी बहुत ही शातिर किस्म के है एवं उनके द्वारा पूर्व में भी अन्य घटनाएं किये जाने के संबंध में पूछताछ की जा रही है। आरोपियों को गिरफ्तार कर उनक विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही की जा रही है।

मामले में गिरफ्तार आरोपी के नाम
1. अनुपम झा उर्फ अमर पिता अवधेश झा उम्र 30 वर्ष निवासी स्टेट बोडिंग के पास बैकुण्ठपुर थाना बैकुण्ठपुर जिला वैशाली, बिहार, हाल ग्राम धनेली थाना मुजगहन जिला रायपुर।
2. दिलीप राय उर्फ गोलू पिता अमरनाथ राय उम्र 24 वर्ष निवासी परैवा थाना गौराबासापुर जिला जौनपुर उत्तरप्रदेश, हाल फादरवाड़ी जनदेवी मंदिर के पास थाना गौराई पड़ा वसई ईस्ट मुम्बई।

आरोपी से बरामद की गई सामग्री
1. घटना में प्रयुक्त पिस्टल
2. सोने के जेवरात 165 ग्राम कीमत 6,60,000/-रू.
3. चांदी के जेवरात 05 किलो कीमत 2,50,000/-रू.
4. काले रंग का स्कोडा कार कीमत 10 लाख रू.
5. ग्रेसिया स्कूटी कीमत 65000/-रू.
6. नगदी पैसा 65000/-रू.

SHARE THIS

क्राइम

कोण्डागांव पुलिस ने 24 घण्टा के अंदर ग्राम चिखलपुटी मे हुए चोरी का किया खुलासा

Published

on

SHARE THIS

आदतन चोरो के कब्जे से चोरी हुई सोने एवं चांदी के जेवरात

कोण्डागांव : प्रार्थिया उचिता ठाकुर निवासी चिखलपुटी के अनुसार वह अपने घर के पीछे का दरवाजा को अंदर से कुण्डी लगाकर सामने के दरवाजा में ताला लगाकर दोपहर करीबन 01.00 बजे पंचायत भवन चिखलपुटी मे मिटिग के लिए गई थी दोपहर 02.00 बजे वापस आने पर वापस आने पर घर के सामने का दरवाजा ताला खोलकर अंदर जाने पर घर के अंदर रखे आलमारी का दरवाजा खुला हुआ था पीछे तरफ के दरवाजा का सिटकिनी खुला था। आलमारी के अंदर रखे गुलाबी रंग के पर्स में रखे 01 नग सोने का हार, 01 जोडी सोने का झुमका, चांदी का सिक्का 05 नग, चांदी का पायल 04 जोडी, चांदी का हाफ करधन 01 नग, नगद रकम 30000/रूपये को किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा चोरी कर ले गया है। प्रार्थिया उक्त रिपोर्ट के आधार पर थाना कोण्डागांव में अज्ञात चोर के खिलाफ अपराध क्र0 329/2023 धारा 380, 454 भा0द0वि0 कायम कर विवेचना में लिया गया ।

जिला कोण्डागांव में पुलिस अधीक्षक वाय अक्षय कुमार भा.पु.से. के निर्देशन में , अति. पुलिस अधीक्षक दौलतराम पोर्ते के मार्गदर्शन व पुलिस अनुविभागीय अधिकारी कोण्डागांव निमितेश सिंह के नेतृत्व में कोण्डागांव पुलिस ने चोरी के मामले मे पूर्व संदेही एवं आदतन चोर किशोर मण्डल और उसके साथी राहुल लहरे से घटना के संबंध में पुछताछ करने पर दोनो के द्वारा योजना बनाकर करके प्रार्थिया के घर पर चोरी करना स्वीकार किया गया एवं दोनो के कब्जे से चोरी हुए सोने एवं चोदी के जेवरात कुल मुल्य 160000/रूपये एवं नगदी रकम 25000/रूपये कुल जुमला रकम 185000/रूपये को बरामद किया गया।

उक्त सम्पूर्ण कार्यवाही निरीक्षक प्रहलाद यादव , उप निरी आनंद सोनी,स.उ.नि लोकेश्वर नाग प्र.आर नरेन्द्र देहारी, अशोक कुमार व म.प्र.आर 190 विमला माला, का विशेष योगदान रहा।

SHARE THIS
Continue Reading

क्राइम

रायपुर में बलवा, 2 पक्षों के लोग भिड़े

Published

on

SHARE THIS

रायपुर :  रायपुर में शुक्रवार शाम को दो पक्षों के बीच बढ़ा विवाद बलवे में तब्दील हो गया। मारपीट का वीडियो भी सामने आया है। जिसमें दो पक्षों के करीब 50 लोग लाठी, फावड़ा और सरिया लेकर दौड़ते दिख रहे हैं। मारपीट के बाद मोहल्ले की महिलाएं बड़ी संख्या में देर रात कोतवाली पहुंचीं। पूरा मामला टिकरापारा और कोतवाली थाने के बीच के दो मोहल्लों का है। शुक्रवार शाम करीब 7 बजे पुजारी नगर की महिलाएं नवाखाई त्यौहार मनाकर पड़ोस के ढीमर मोहल्ले में गणेश पंडाल पहुंची थीं। महिलाएं वहां पूजा पाठ करने लगीं। इसी दौरान भीड़ में से कुछ लोग गाली-गलौज करने लगे।

महिलाओं ने उन्हें ऐसा करने से मना किया तो बात बढ़ गई। देखते ही देखते विवाद बढ़ गया। दोनों पक्षों के लोग आपस में भिड़ गए। हालांकि मारपीट में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। घटना के बाद देर रात इलाके की महिलाएं बड़ी संख्या में कोतवाली पहुंचीं। ढीमर पारा की छाया धीवर का कहना है कि पड़ोस के मोहल्ले के कुछ लोग चाकू लेकर घूम रहे हैं। पता नहीं कब क्या हो जाए। महिलाओं ने अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई।

SHARE THIS
Continue Reading

क्राइम

जयस्तंभ के मल्टीलेवल पार्किंग में नाबालिग से गैंगरेप, 3 आरोपी गिरफ्तार

Published

on

SHARE THIS
रायपुर :  राजधानी में फिर एक बार एक नाबालिग से गैंगरेप हुआ है। इस बार मल्टी-लेवल पार्किंग में हुई है। बड़ी बात यह है कि इस मल्टी लेवल पार्किंग में ASP दफ्तर भी है। बताया जा रहा है कि नाबालिग से उसके ही ब्वॉयफ्रेंड के दोस्तों ने दुष्कर्म किया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, गैंगरेप के सभी आरोपियों को पकड़ लिया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, 17 साल की लड़की रायपुर के पास के एक गांव की रहने वाली है। वह अपने बॉयफ्रेंड के साथ उसके दोस्तों से मिलने के लिए ​​​​​जय स्तंभ चौक स्थित ​​मल्टीलेवल पार्किंग में पहुंची थी।
बताया जा रहा है कि लड़की का बॉयफ्रेंड उसे छोड़कर किसी काम से चला गया था। इस बीच वहां मौजूद युवकों ने लड़की से दुष्कर्म किया। इससे करीब 20 दिन पहले रायपुर के मंदिर हसौद थाना इलाके में भी दो बहनों के साथ गैंगरेप हुआ था। शुरुआती जानकारी के मुताबिक, रेप के आरोपी इसी पार्किंग में ठेका का काम संभालते हैं। लड़की को अकेला पाकर आरोपी उसे गार्ड रूम में ले गए और फिर दुष्कर्म किया। वारदात के बाद युवती ने गोल बाजार थाने में जाकर घटना की जानकारी दी।
3 आरोपी गिरफ्तार
नाबालिग से गैंगरेप की शिकायत पर पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनमें से एक 35 साल का अविनाश बहरा अरविन्द नगर का रहने वाला है। वहीं 31 साल का सिकंदर जैन कांकेर का रहने वाला है। इसके अलावा तीसरे आरोपी का नाम गौरव राज है।

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

Trending