Connect with us

Special News

मुख्यमंत्री की पहल एवं निर्देशन में छत्तीसगढ़ के अन्य राज्यों में फंसे 64 हजार 416 श्रमिकों को पहुंचायी गई राहत, देश के 20 राज्यों एवं चार केन्द्र शासित प्रदेशों में फंसे है छत्तीसगढ़ के प्रवासी श्रमिक

Published

on

SHARE THIS

रायपुर, 15 अप्रैल 2020/ लाॅकडाउन से प्रभावित छत्तीसगढ़ प्रदेश के अन्य राज्यों में फंसे प्रवासी श्रमिकों के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल एवं निर्देशन में राज्य सरकार ने 14 अप्रैल शाम 4 बजे तक संकटग्रस्त 64 हजार 416 श्रमिकों को भोजन, ठहरने और चिकित्सा सुविधा सहित अन्य आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित कर उन्हें राहत पहुंचायी हैं। इनमें अब तक छह हजार 556 श्रमिकों के खाते में तत्कालिक व्यवस्था के लिए लगभग 19 लाख 12 हजार रूपए भी जमा करवाया गया है। छत्तीसगढ़ के श्रमिक देश के 20 अन्य राज्यों एवं चार केन्द्र शासित प्रदेशों में संकट की स्थिति में होने के संबंध में जानकारी मिली है।
श्रम विभाग के अधिकायरियों ने आज यहां बताया कि छत्तीसगढ़ शासन द्वारा संकटग्रस्त 6556 श्रमिकों को राहत पहुंचाने के लिए तात्कालिक व्यवस्था के रूप में जिला बेमेतरा के 4879 श्रमिकों के खाते में 15 लाख 45 हजार रूपए, मुंगेली जिले के 1483 श्रमिकों के खातें में एक लाख 73 हजार रूपए और कबीरधाम जिले के 194 श्रमिकों के खातें में प्रति श्रमिक 1000 रूपए की मान से एक लाख 94 हजार रूपए जमा कराया गया है।
उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा देश के अन्य राज्यों में श्रमिकों की समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए अधिकारियों का दल गठित कर सतत् निगरानी की जा रही है। इसके लिए श्रम विभाग द्वारा राज्य स्तर पर हेल्पलाईन नम्बर 0771-2443809, 91098-49992, 75878-22800 सहित जिला स्तर पर भी हेल्पलाईन नम्बर स्थापित किए गए हैं। हेल्पलाईन नम्बर के माध्यम से प्राप्त श्रमिकों की समस्याओं को पंजीबद्ध कर तत्काल यथासंभव समाधान किया जा रहा है। मुख्यमंत्री के निर्देशन पर श्रम विभाग के सचिव सोनमणी बोरा के मार्गदर्शन में अन्य प्रदेशों के स्थानीय प्रशासन से सतत् समन्वय कर श्रमिकों की समस्याओं का यथाशीघ्र समाधान किया जा रहा है।
अधिकारियों ने बताया कि लाॅकडाउन के कारण उत्पन्न परिस्थितियों में संकटग्रस्त एवं जरूरतमंद श्रमिकों की समस्याओं का त्वरित निराकरण किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ के 28 जिलों के श्रमिक 20 अन्य राज्यों एवं चार केन्द्र शासित प्रदेशों में फंसे होने की जानकारी मिली है। सबसे ज्यादा श्रमिक जम्मू में 15 हजार 855, महाराष्ष्ट्र में 11 हजार 718, उत्तरप्रदेश में 10 हजार 365, तेलंगाना में 7 हजार 927, गुजरात में 5 हजार 599, और मध्यप्रदेश में एक हजार 686 श्रमिकों के फंसे होने की जानकारी प्राप्त हुई है। इसी प्रकार हिमाचाल प्रदेश में में 1 हजार 575, कर्नाटक में एक हजार 427, तमिलनाडू में एक हजार 404 तथा दिल्ली में एक हजार 228 श्रमिकों के फंसे होने की जानकारी हेल्पलाईन नम्बर सहित विभिन्न माध्यमों से मिली है।
अधिकारियों में बताया कि लाॅकडाउन के कारण उत्पन्न परिस्थितियों में संकटग्रस्त अथवा फंसे हुए श्रमिकों में छत्तीसगढ़ के मुंगेली से छह हजार 144, कबीरधाम से पांच हजार 850, राजनांदगांव से पांच हजार 365, जांजगीर-चांपा से 11 हजार 159, बलौदाबाजार से 20 हजार 424, बेमेतरा से तीन हजार 559, रायगढ़ से दो हजार 112, बिलासपुर से चार हजार 129, सूरजपुर से 464, दुर्ग से एक हजार 187, बालोद से 332, गरियाबंद से 622, रायपुर से एक हजार 352 और कोरबा जिले से 327, महासमुन्द से 424 श्रमिक फंसे हुए है। जिनकी राज्य सरकार के नोडल अधिकारियों द्वारा अन्य राज्यों के प्रशासनिक अधिकारियों, कारखाना प्रबंधकों, नियोजकों और ठेकेदारों से समन्वय कर सतत् निगरानी की जा रही है तथा उनके खाने-पीने, रहने सहित अन्य आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है।

SHARE THIS

Special News

प्रभारी कलेक्टर ने जनदर्शन में सुनी आम जनता की समस्याएं

Published

on

SHARE THIS

 

मनेन्द्रगढ़ : कलेक्टर डी. राहुल वेंकट के मार्गदर्शन पर अपर कलेक्टर अनिल सिदार ने आज कलेक्ट्रेट कार्यालय में जनदर्शन के माध्यम से आम नागरिको की समस्याएं सुनी। जिले के ग्रामीणजन और नागरिकों ने जनदर्शन में अपनी छोटी – बड़ी समस्याओं को सीधे अपर कलेक्टर अनिल सिदार के समक्ष रखा गया। जिसका जिला प्रशासन द्वारा यथासंभव तेजी से निराकरण करने का प्रयास किया जा रहा है। अपर कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को प्राप्त सभी आवेदनों को प्राथमिकता के साथ शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिए हैं। जनदर्शन में आज कुल 18 आवेदन प्राप्त हुये।

आज जनदर्शन में मनेन्द्रगढ़ निवासी घनश्याम दास महंत द्वारा मजदूरी कार्य का भुगतान न दिए जाने के सम्बंध में, ग्राम मसर्रा निवासी रामजी द्वारा पट्टा रद्द करने के संबंध में, ग्राम नागपुर निवासी भू- अर्जन प्रकरण लंबित होने के संबंध, ग्राम पोंडी निवासी सुरेश पाल द्वारा आदेश पारित किए जाने के संबंध में, खोंगापानी निवासी ज्ञानी सिंह द्वारा अनुदान राशि बावत, शासकीय हाई स्कूल झगराखण्ड में नल कनेक्शन सुधार के संबंध में, मनेन्द्रगढ़ निवासी अनिल कुमार सोनी द्वारा नजूल खसरा का सुधार के संबंध में, मनेन्द्रगढ़ थाना प्रभारी एवं सिटी कोतवाली द्वारा सूचना के अधिकार 2005 के तहत सिटी कोतवाली थाना मनेन्द्रगढ़ द्वारा प्राप्त सत्यापित दस्तावेज के संबंध में, खोंगापानी निवासी विवेक चतुर्वेदी द्वारा नगर पंचायत खोंगापानी कार्यालय द्वारा निकाली गई निविदा क्र. 1519/न०प०/2021-22 खोंगापानी दिनांक 09/11/2021 के संबंध में, खोंगापानी निवासी विवेक चतुर्वेदी द्वारा कार्यो के भुगतान की जानकारी प्रदान कराने के संबंध में, ग्राम बिहारपुर निवासी संजय सिंह, चंद्रिका प्रसाद, बच्चा लाल, द्वारा वन अधिकार पट्टा के संबंध में, हल्दीबाड़ी निवासी विनोद साहू द्वारा पैसा (45000) दिलाने के संबंध में, हल्दीबाड़ी निवासी विनोद साहू द्वारा पंजीयन कराने के संबंध में, ग्राम चैनपुर निवासी बसंत लाल द्वारा भूमि खाली कराने के संबंध में, ग्राम बरबसपुर निवासी अनिल द्वारा धान जप्ती लेने के संबंध में एवं ग्राम कोड़ा निवासी गणेश प्रसाद द्वारा मुझ बेरोजगार को रोजगार देने के संबंध में।अपर कलेक्टर ने प्राप्त सभी आवेदनों को पूरी गंभीरता से सुनते हुए संबंधित विभागों को उचित कार्यवाही करते हुए त्वरित निराकरण करने के निर्देश दिये।

SHARE THIS
Continue Reading

Special News

बारातियों से भरी बस पलटी, एक दर्जन से अधिक लोग घायल

Published

on

SHARE THIS

रायपुर:  राजधानी रायपुर में देर रात बारातियों से बस पलट गई. जानकारी के मुताबिक ये बस दामाखेड़ा से बारातियों को लेकर रायपुर लौट रही थी. हादसे में एक दर्जन से अधिक बराती घायल हुए है. सभी घायलों की हालत सामान्य बताई जा रही है. हादसा रायपुर-बिलासपुर हाईवे में हुआ है. पूरा मामला धरसीवा थाना क्षेत्र का है.

पुलिस ने इस हादसे पर जानकारी देते बताया कि किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है. घायलों की हालत सामान्य है. उनके परिजनों को हादसे की सूचना दे दी गई है. बता दें कि धरसीवा पुलिस फ़िलहाल हादसे का कारण पता लगाने में जुट गई है

SHARE THIS
Continue Reading

Special News

स्वास्थ्य अधिकारी और कर्मचारियों को हड़ताल अवधि का मिलेगा वेतन

Published

on

SHARE THIS

रायपुर :स्वास्थ्य विभाग के हड़ताल पर गए अधिकारियों-कर्मचारियों को हड़ताल अवधि का वेतन मिलेगा। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा आज मंत्रालय महानदी भवन अटल नगर रायपुर से इस आशय का आदेश जारी कर संचालक स्वास्थ्य सेवाएं को निर्देशित किया है कि विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को हड़ताल अवधि 4 जुलाई 2023 से 9 जुलाई 2023 तक की अनुपस्थित अवधि का निराकरण अर्जित अवकाश स्वीकृत करते हुए किया जाए। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के आव्हान पर लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अधीनस्थ कार्यालयों के अधिकारी-कर्मचारी 4 जुलाई 2023 से 9 जुलाई 2023 तक हड़ताल पर गए थे।

 

 

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

WEBSITE PROPRIETOR AND EDITOR DETAILS

Editor/ Director :- Rashid Jafri
Web News Portal: Amanpath News
Website : www.amanpath.in

Company : Amanpath News
Publication Place: Dainik amanpath m.g.k.k rod jaystbh chowk Raipur Chhattisgarh 492001
Email:- amanpathasar@gmail.com
Mob: +91 7587475741

Trending