Connect with us

क्राइम

दिनदहाड़े कैशवैन के चालक को गोली मारकर 14 लाख से अधिक के रकम को लूटने वाले आरोपियों को पुलिस ने किया गिफ्तार…  

Published

on

SHARE THIS

रायगढ़। रायगढ़ के करोड़ीमल नगर आजाद चौक स्थित एसबीआई के एटीएम मे पैसा डालने आए वैन के चालक एवं गार्ड को गोली मारकर 14 लाख 50हजार की लूट को अंजाम देने वाले दोनों आरोपियों को रायगढ़ पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि आरोपियों को पकडऩे के लिए बिलासपुर रेंज के आईजी दिपांशु काबरा और एसपी रायगढ़ संतोष कुमार सिंह ने पूरे जिले को सिल कर 50 नाकेबंदी पाइंट बनाई थी।

रातभर वाहनों एवं आने जाने वालों की संघन तलाशी अभियान चलाया गया। इसी बीच डीवीएस शाखा में पदस्थ एक आरक्षक को मुखबिर की सूचना मिली की दो संदिग्ध केराझर में देखे गए हैं। इसके बाद केराझर एवं पास के दो गांवों में पुलिस की टीम गांव को घेराबंदी कर हथियारलैस होकर घरों की तलाशी लिये। इस दौरान गांवा वालों के द्वारा भी पुलिस पार्टी का भरपूर सहयेाग किया गया। इसी दौरान पुलिस पार्टी को एक कमरे के अंदर दो संदिग्ध मिले जिसमें एक युवक ने पुलिस पार्टी पर पिस्टल तान दिया। जान जोखिम में डालकर पुलिस वालों ने झुमा झटकी कर युवकों को पकडक़र उनसे हथियार छीन हिरासत में ले लिये। मुख्य आरोपी सुधीर कुमार सिंह 23 वर्ष पिता झुलन राय एवं पिंटू वर्मा 18 वर्ष मुख्य रूप से बिहार ग्राम खम्हौरी के रहने वाले हैं। सुधीर कुमार सिंह एक करोड़ कमाने के लालच में बिहार जाकर पिंटू वर्मा को कैशवैन लूटने की योजना बताई थी।लूट की प्लानिंग सुनकर पिंटू वर्मा राजी हो गया था इसके बाद दोनों ने वैन लूटने के लिए दो पिस्टल, दो देशी कट्टा, तीन मैगजीन, 26 राउंड दो जिंदा कारतूस, दो बटन चाकू की व्यवस्था कर रायगढ़ आने के बाद 15 दिनों तक रेकी की व 4 दिन तक कैशवैन की पड़ताल की उसके बाद गाड़ी का नंबर प्लेट बदल वारदात को अंजाम देने के लिए एचएफ डिलक्स में लूट की घटना को अंजाम दिया।मुख्य आरोपी सुधीर सिंह वर्तमान में रायगढ़ में ही रहता था। रायगढ़ पुलिस इस कामयाबी पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल,गृह मंत्री ताम्रध्वज और पुलिस महानिदेशक दुर्गेश माधव अवस्थी ने रायगढ़ पुलिस को बधाई दी है। पुलिस महानिदेशक अवस्थी ने 10 घंटे के भीतर लूट का खुलासा करने वाले पुलिस टीम के सभी सदस्यों को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

SHARE THIS

क्राइम

चाकू मारकर युवक की हत्या करने के मामले में 6 आरोपी गिरफ्तार,1 फरार..

Published

on

SHARE THIS

 

 

सुरेश मिनोचा:मनेंद्रगढ़/एमसीबी :  बीते रविवार की रात को आमाखेरवा क्षेत्र में एक युवक की चाकू मार कर हत्या करने के मामले में जिले की सिटी कोतवाली पुलिस ने कार्यवाही करते हुए 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, वहीं एक आरोपी अब भी फरार है, जिसकी पुलिस द्वारा तलाश की जा रही है।

उपरोक्त संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार 15 जुलाई 2024 की रात लगभग 12.50 बजे प्रार्थी सुनील कुमार जसुजा थाना आकर मौखिक रिपोर्ट दर्ज कराया था कि 14 जुलाई 2024 की रात करीब 11 बजे प्रकाश रजक, चंन्द्रशेखर यादव, मुलायम सिंह यादव, अरूण केंवट, निखिल एवं विधि से संघर्षरत किशोर द्वारा बिजली ऑफिस के पास, आमाखेरवा, मनेन्द्रगढ़ में पुराने विवाद को लेकर प्रार्थी के भतीजा

मृतक पीयुष जसूजा को हाथ मुक्का एवं चाकू से मारकर हत्या कर दी गई है।

प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना मनेन्द्रगढ़ में अपराध क्रमांक 243/2024 धारा 191 (2), 191 (3),190, 103 (1) बी.एन.एस. कायम कर विवेचना में लिया गया। पुलिस अधीक्षक जिला एमसीबी चन्द्रमोहन सिंह के निर्देश, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अशोक वाडेगांवकर और पुलिस अनुविभागीय अधिकारी ए. टोप्पो के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी के नेतृत्व में टीम गठित कर प्रकाश रजक, चंन्द्रशेखर यादव, मुलायम सिंह यादव, अरूण केंवट, एवं विधि से संघर्षरत किशोर से घटना में प्रयुक्त चाकू एवं मोटर सायकल जप्त कर आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर

भेज दिया गया है। प्रकरण का आरोपी निखिल फरार है जिसकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है,जल्द ही उसे गिरफ्तार किया जाएगा।

 

“आरोपी जो गिरफ्तार हुए”

(1) चन्दशेखर यादव उर्फ कल्लू पिता मेलाराज यादव उम्र 20 वर्ष निवासी वार्ड नंबर 14 घोड़ा मोहल्ला मनेन्द्रगढ़ थाना मनेन्द्रगढ़ जिला एमसीबी (छ.ग.)

(2) अरूण कुमार केंवट पिता स्व. शिवलाल केंवट उम्र 32 वर्ष निवासी वार्ड नंबर 14 खान नर्सिग होम,शारदा मंदिर के पास मनेन्द्रगढ़ थाना मनेन्द्रगढ़ जिला एमसीबी (छ.ग.)

(3) प्रकाश रजक पिता स्व. पूरन लाल रजक उम्र 35 वर्ष निवासी वार्ड नंबर 14 लंहगीर मोहल्ला मनेन्द्रगढ़ थाना मनेन्द्रगढ़ जिला एमसीबी (छ.ग.)

(4) करन सिंह पिता स्व. सेवश सिंह गोड उम्र 20 वर्ष निवासी वार्ड नंबर 14 दुर्गा मंदिर के पास मनेन्द्रगढ़ जिला एमसीबी (छ.ग.)

(5.) मुलायम सिंह यादव चक्कू पिता स्व. मेला राम यादव उम्र 31 वर्ष निवासी वार्ड नंबर 14 घोड़ा मोहल्ला मनेन्द्रगढ़ थाना मनेन्द्रगढ़ जिला एमसीबी (छ.ग.)

(6) विधि से संघर्षरत किशोर

सम्पूर्ण कार्यवाही में सिटी कोतवाली थाना प्रभारी मनेन्द्रगढ़

निरीक्षक अमित कश्यप, उप निरीक्षक सत्येन्द्र सिंह, सउनि

चेतन राजवाडे, किशन चौहान, नईम खान, विपिन मिंज, प्रधान आरक्षक इश्तियाक खान, मुमताज खान, पुष्कल सिन्हा,

संतोष टेकाम, नीरज पढिहार, आरक्षक जितेन्द्र ठाकुर, राकेश तिवारी, ज्ञानेश्वर राजवाडे, उत्तरा कश्यप, प्रदीप लकड़ा, सुमित भारती की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

SHARE THIS
Continue Reading

क्राइम

युवती को बहला-फुसलाकर खिलाया नशीला पदार्थ, फिर बंधक बना कई दिनों तक करते रहे गैंगरेप

Published

on

SHARE THIS

अलीगढ़ के क्वार्सी थाना क्षेत्र की एक युवती के साथ अपहरण कर कई दिनों तक उससे गैंगरेप करने का मामला सामने आया है। आरोपी पीड़िता को बहला-फुसला कर ले गए थे। आरोपियों ने युवती को बंधक बनाकर परिजनों से फिरौती की भी मांग की थी। गायब युवती के पिता ने दस दिन पूर्व उसके गायब होने का मामला दर्ज कराया था। इसके बाद लगातार पुलिस युवती की तलाश में लगी हुई थी। आरोपियों ने युवती को क्वार्सी क्षेत्र के सांगवान सिटी में बंधक बनाकर रखा था। पुलिस ने मामले में एक युवती सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें से एक आरोपी नाबालिग है।

लड़की के पिता ने पुलिस में दर्ज कराई थी गुमशुदा की रिपोर्ट

दरअसल, अलीगढ़ के क्वार्सी थाना क्षेत्र के रहने वाले एक व्यक्ति ने पुलिस को शिकायत दी थी कि 28 जून को उसकी 27 वर्षीय पुत्री 4:00 बजे घर से क्वार्सी चौराहा के लिए गई थी। परिजनों ने करीब 1 घंटे बाद जब उसे कॉल की तो उससे बात हुई तो उसने कहा कि मैं थोड़ी देर में आ रही हूं। लेकिन उसके बाद उसका कोई पता नहीं पड़ा। रात लगभग 11:15 बजे युवती के परिजन थाना क्वार्सी पहुंचे और उन्होंने वहां पर सब इंस्पेक्टर आलोक शर्मा से संपर्क किया। उन्होंने युवती के फोन को तत्काल सर्विलांस पर लगवाया। उसके बाद पता चला कि नौरंगाबाद क्षेत्र में आकर रात 12:30 पर मोबाइल स्विच ऑफ हो गया था उसके बाद उसकी कोई जानकारी नहीं मिली। पुलिस लगातार सर्विलांस और सीसीटीवी कैमरा खंगाल रही थी।

बंधक बनाकर युवती से किया गैंगरेप

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस की दो टीमों को इसमें लगाया गया था। इसके आधार पर पुलिस को जानकारी मिली कि उक्त युवती को सांगवान सिटी में नशीला पदार्थ खिलाकर बंधक बनाकर रखा हुआ है। इस पर पुलिस ने छापा मार कर युवती को बरामद किया। आरोपियों ने युवती के साथ कई दिनों तक बंधक बनाकर सामूहिक बलात्कार किया। इन आरोपियों का साथ एक युवती भी दे रही थी। पुलिस ने मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है जिसमें आकाश, जतिन कुमार, एक युवती अंजना चौधरी एवं एक अन्य आरोपी जो नाबालिग है उनको गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सभी आरोपियों को जेल भेज दिया है। मामले में जो मुख्य आरोपी है दीपक वह अभी फरार चल रहा है। बताया जा रहा है कि उसकी युवती से पहले जान पहचान थी जो युवती को बहला फुसला कर ले गया था और बाद में उसको बेहोश कर के रखा था। उपरोक्त आरोपी युवक दीपक का साथ दे रहे थे।

मामले में एक लड़की समेत दो लोग गिरफ्तार, 1 आरोपी फरार

मामले पर अलीगढ़ के एएसपी अमृत जैन ने बताया कि 29 जून 2024 को थाना क्वार्सी के रघुवीर नगर इलाके से यह जानकारी मिली कि एक युवती को बहला फुसला कर ले जाया गया है। स्थानीय पुलिस ने तुरंत संज्ञान लेते हुए सुसंगत धारा में अभियोग पंजीकृत किया एवं लड़की की बरामदगी हेतु स्पेशल टीम का गठन किया। इस स्पेशल टीम ने 8 जुलाई 2024 को सांगवान सिटी स्थित एक फ्लैट से युवती को बरामद किया और एक गिरोह का पर्दाफाश किया। इस गिरोह ने 29 जून से इस लड़की को बंधक बनाकर रखा गया था और नशीला पदार्थ खिलाकर लड़की को बेहोश कर सामूहिक दुष्कर्म किया था। इस गिरोह द्वारा फिरौती की भी डिमांड की गई थी। इस गिरोह का मुख्य सदस्य अभी फरार है। जिसकी गिरफ्तारी का प्रयास जारी है। बाकी गिरोह के तीन सदस्यों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। एक बाल अपचारी को बाल सुधार गृह भेजा गया है।

SHARE THIS
Continue Reading

क्राइम

Indore में बीफॉर्मा की छात्रा सैयद सारा की हत्या में खुलासा,चाकू से गला रेता शराब से किया खून साफ

Published

on

SHARE THIS

इंदौर:-  इंदौर में बी.फॉर्मा के छात्र सैयद सारा की हत्या के मामले में पुलिस उसके दोस्तों गौरव सरकार और स्निग्धा मिश्रा से पूछताछ कर रही है। इसमें कई बड़े खुलासे हुए हैं. गौरव ने उसका गला घोंट दिया और चाकू से काट डाला। इसके बाद कार की सीट पर खून फैल गया। स्निग्धा ने कार की सीट को अल्कोहल से साफ किया ताकि बदबू न आए. सारा की हत्या करने के बाद गौरव और स्निग्धा ने खून से सने चाकू को रुमाल से साफ किया और चोइथराम के पास नाले में फेंक दिया. पुलिस ने शुक्रवार को कार, चाकू और रूमाल जब्त कर लिया। शिप्रा पुलिस टीआई गिरिजा शंकर महोबिया के मुताबिक आरोपी गौरव सरकार (गोयल नगर) और स्निग्धा मिश्रा (पिपलिहाना) पुलिस रिमांड पर हैं। दोनों आरोपी एक्रोपोलिस कॉलेज की छात्रा सारा को घुमाने के बहाने सिमरोल ले गए थे।

पहले गला दबाया, फिर चाकू से काटा
25 अप्रैल को गौरव ने सारा का गला घोंट दिया और फिर चाकू से उसका गला काट दिया. पूछताछ में गौरव ने बताया कि सीट पर खून फैला हुआ था। सीट को साफ करने के बाद खून की गंध से बचने के लिए इसे अल्कोहल से साफ किया गया.

एक कार किराए पर ली
उसने रूमाल से चाकू और स्पंज से सीट साफ करने की बात भी स्वीकार की। पुलिस ने घाटी इलाके से स्पंज और रूमाल जब्त किए हैं. चोइथराम के पास नाले में चाकू फेंक दिया। आरोपियों ने जूम कार्स से एक कार किराए पर ली थी।

इसी नाले से एक चाकू बरामद हुआ.
पुलिस ने कंपनी को नोटिस भेजकर कार जब्त कर ली है। आरोपी गौरव और स्निग्धा एक दूसरे से प्यार करते हैं. घटना के बाद उन्होंने स्निग्धा से कहा कि अगर पुलिस पूछताछ के लिए बुलाए तो वह घबराए नहीं। पूरे आत्मविश्वास के साथ बयान दे रहे हैं. गौरतलब है कि कुछ दिन पहले पुलिस को जंगल में सारा की हड्डियां मिली थीं. पुलिस अब उसका डीएनए टेस्ट कराने की तैयारी कर रही है.

SHARE THIS
Continue Reading

खबरे अब तक

WEBSITE PROPRIETOR AND EDITOR DETAILS

Editor/ Director :- Rashid Jafri
Web News Portal: Amanpath News
Website : www.amanpath.in

Company : Amanpath News
Publication Place: Dainik amanpath m.g.k.k rod jaystbh chowk Raipur Chhattisgarh 492001
Email:- amanpathasar@gmail.com
Mob: +91 7587475741

Trending